जनता कर्फ्यू का रहा व्यापक असर, हमेशा गुलजार रहने वाले चौराहे रहे सुनसान_रिपोर्ट- मु.परवेज़ अख्तर     पालघर स्टेशन पर उतारे गये कोरोना वायरस के संक्रमण के चार संदिग्ध     सुलतानपुर-रफ्तार का कहर,दो की मौत,चार रेफर_रिपोर्ट_अज़हर अब्बास     मदरसों में बच्चों के अन्दर छिपी हुई प्रतिभा को निखारा जाता हैः मौलाना हलीमुल्लाह कासिमी     सुल्तानपुर, फ्लैश     संतकबीरनगर-विज्ञान महोत्सव का डीएम-एसपी ने किया शुभारम्भ_रिपोर्ट-बिट्ठल दास     संतकबीरनगर- संघर्ष समिति संयोजक ने किया भ्रमण_रिपोर्ट-नूर आलम सिद्धीकी     पीएचसी दुधारा पर लगा मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला     जनपद बदायूं के नगर कोतवाली क्षेत्र उझानी मे चल रहे वाछितं अपराधियो को गिरफ्तार कर जेल भेजा     

आशा व आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कोरोना से बचाव के लिए घर घर फैला रहीं जागरूकता_रिपोर्ट-रवि गुप्त

 

 


बलरामपुर 25 मार्च। एक ओर जब पूरे जिले में लाॅकडाउन है, इमरजेंसी सेवा को छोड़कर किसी को भी बाहर निकलने की इजाज़त नहीं है। वहीं अपनी जान जोखिम में डालकर गांव की आशा और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, लोगों को कोरोना से बचाव के लिए जागरूक कर रहीं हैं। कार्यकर्ता घर घर जाकर सभी को कोरोना के खिलाफ 21 दिनों तक घरों मे ंरहकर कोरोना के खिलाफ इस युद्ध को जीतने की अपील कर रहीं हैं।
डा. घनश्याम सिंह मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बुधवार को बताया कि कोरोना वायरस ना फैलने पाये इसलिए सभी विभाग मिलकर काम कर रहे है लेकिन गांव की मुख्यधारा में इस आपातकाल के समय आशा और आंगनबाड़ी वर्कर विभाग की आंख, कान और मुंह बने हुए हैं। जिले की 1890 आशा और 1882 आंगनबाड़ी वर्कर अपने क्षेत्र के गांव में जाकर ना सिर्फ लोगों को वायरस के प्रति जागरूक कर रही है बल्कि हर घंटे हाथों को साफ करने का महत्व भी बता रहीं हैं। कोरोना वायरस से अपना बचाव करते हुए लोगों को जागरूक करने के लिए पहले ही आशा और आंगनवाडी वर्कर को प्रशिक्षित किया जा चुका है। उन्होने कहा कि जिन विपरीत परिस्थितियों मे ंहम काम कर रहे हैं। उसे लोगों को समझना चाहिए और जिला प्रशासन के समय समय पर जारी निर्देशों का पालन करना चाहिए। उन्होने कहा कि क्या आप जानते है कि हमें घर में रहने के लिए क्यों कहा जा रहा है क्योंकि यदि हम कोरोना को लेने घर से बाहर जाएंगे तभी वो हमारे घर आयेगा। उन्होने बताया कि यदि कोई विदेश या अन्य राज्यों से आया व्यक्ति बीमार दिखे तो कंट्रोल रूम नम्बर 7880831068, 7081224641 व 112 पर तत्काल सूचना उपलब्ध कराएं। डीपीओ के.एम. पाण्डेय ने बताया कि जिले के सभी आंगवाड़ी केन्द्र बंद हैं बावजूद इसके आंगनवाड़ी वर्कर गृह भ्रमण कर रहीं हैं। आंगनबाड़ी वर्कर भ्रमण कर लोगों को कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव की जानकारी देने के साथ महिला-पुरूष तथा किशोर-किशोरियों को हैंडवाश करवा रहीं हैं। घर व आसपास में साफ-सफाई करने के लिए सबको प्रेरित किया जा रहा है। वर्कर लोगों से अपील कर रहीं हैं कि परिजनों, रिश्तेदारों और मित्रों को जीवनशैली से जुड़ी सावधानियों के बारे में बताएं। पड़ोसियों के साथ मिलकर आपातकालीन स्थिति की योजना बनाएं। उन्होने बताया कि आंगनवाड़ी वर्कर इस दौरान बच्चों, गर्भवती व धात्री महिलाओं के घर जाकर पोषाहार का वितरण भी कर रहीं हैं। इस दौरान गांव में विदेश व अन्य राज्यों से आये लोगों की ट्रैकिंग भी कि जा रही है।
सुरक्षित रहकर बता रहीं हाथ की सफाई का महत्व
कोरोना जागरूता में लगी गैसड़ी क्षेत्र की सीडीपीओ गरिमा श्रीवास्तव ने बताया कि भ्रमण के दौरान कार्यकर्ताओं को सुरक्षा के मानकों को अपनाने, मास्क लगाने व सेनेटाइजर का उपयोग करने के निर्देश दिये गये हैं। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कंचन, जनकदुलारी, संगीता, सुमित्रा, सुमन, अन्जुम व जरीना आदि ने बताया कि उनके द्वारा सुरक्षित रहकर घर-घर जाकर हैण्ड वाशिंग का प्रदर्शन किया जा रहा है जिसमें पानी और साबुन का इस्तेमाल करते हुए हाथों को 30 सेकेंड तक रगड़कर साफ करने एवं खाने के पहले और बाद, शौचालय के इस्तेमाल के बाद अवश्य साबुन से हाथ धुलने की सलाह दी जा रहीं है। लोगों को मास्क लगाने व ऐसे सेनेटाइजर का इस्तेमाल करने की सलाह दी जा रही है जिसमें 60 प्रतिशत अल्कोहल हो।

हाल के पोस्ट

S.R International Academy
Police banner