Home » यू पी/उत्तराखण्ड » सुलतानपुर---कोरोना वायरस की आहट से अफसर हुए चौकन्ने,जिला अस्पताल में 10 बेड आरक्षित_रिपोर्ट:-अज़हर अब्बास

सुलतानपुर---कोरोना वायरस की आहट से अफसर हुए चौकन्ने,जिला अस्पताल में 10 बेड आरक्षित_रिपोर्ट:-अज़हर अब्बास

सुलतानपुर---जनपद में कोरोना वायरस का एक संदिग्ध मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य अफसर चौकान्ने हो गए हैं...

सुलतानपुर---कोरोना वायरस की आहट से अफसर हुए चौकन्ने,जिला अस्पताल में 10 बेड आरक्षित_रिपोर्ट:-अज़हर अब्बास
Share Post


सुलतानपुर---जनपद में कोरोना वायरस का एक संदिग्ध मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य अफसर चौकान्ने हो गए हैं आनन-फानन में जिला अस्पताल में 10 बेड आरक्षित कर लिए गए हैं इसके अलावा कोरोना वायरस से लड़ने के लिए समस्त संसाधन भी उपलब्ध करा दिए गए हैं स्वास्थ्य महकमे का कहना है कि चीन से आने वाले मरीजों की पड़ताल की जाए और कोरोना पर रोकथाम लगाने की प्रभावी कार्रवाई की जाए

कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य विभाग चौकन्ना:-

शहर के चौक क्षेत्र में एक संदिग्ध कोरोना वायरस के मरीज की पहचान की गई है हालांकि स्वास्थ्य विभाग ने ब्लड सेंपलिंग कर जांच के लिए चिकित्सा विश्वविद्यालय लखनऊ भेजा है रिपोर्ट के आधार पर अगली कार्रवाई की जाएगी, लेकिन मरीज पर पैनी निगाह रखी जा रही है.इसी को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है जिला अस्पताल में 10 बेड आरक्षित किए गए हैं, जहां पर कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों को भर्ती करने का प्रबंध किया गया है सैनिटाइजर समेत समस्त उपकरण और दवाएं उपलब्ध कराई गई हैं, जिससे किसी भी आपात स्थिति से तात्कालिक प्रभाव से निपटा जा सके

डॉ. बीवी सिंह,मुख्य चिकित्सा अधीक्षक:-

जिला अस्पताल में 10 बेड का एक वार्ड आरक्षित कर दिया गया है, जिसमें सैनिटाइजर , हैंड ग्लब, मास्क समेत अन्य संसाधन उपलब्ध कराए गए हैं. चाइना के वोहान प्रांत से जो ट्रैवल करेगा वहीं इस विषाणु को कैरी करेगा. वहां से जो आ रहे हैं, उनकी जांच किया जाए. 14 दिन तक उनकी निगरानी की जाए. इस तरीके से कोरोना वायरस का प्रवेश रोका जा सकता है.