Home » यू पी/उत्तराखण्ड » अमेठी-----दावों की खुली पोल,आश्रम में ठंड से गाय ने तोड़ा दम,बनी कुत्ते का निवाला_रिपोर्ट:-अज़हर अब्बास

अमेठी-----दावों की खुली पोल,आश्रम में ठंड से गाय ने तोड़ा दम,बनी कुत्ते का निवाला_रिपोर्ट:-अज़हर अब्बास

अमेठी---देश में इंसान कम जानवर पर राजनीति जंग हो रही। ख़ासकर गाय के नाम सियासत की रोटियां सेंकी जा...

अमेठी-----दावों की खुली पोल,आश्रम में ठंड से गाय ने तोड़ा दम,बनी कुत्ते का निवाला_रिपोर्ट:-अज़हर अब्बास
Share Post




अमेठी---देश में इंसान कम जानवर पर राजनीति जंग हो रही। ख़ासकर गाय के नाम सियासत की रोटियां सेंकी जा रही। ऐसे में केंद्रीय मंत्री के संसदीय क्षेत्र में उस गाय से जुड़ी शर्मनाक तस्वीर सामने आने के बाद सभी दावों की पोल खुल गई है।

प्रदेश भर में विख्यात टीकरमाफी आश्रम में मंगलवार को ठंड से गाय ने दम तोड़ दिया। आश्रम कर्मी लापरवाह इतने के मर चुके उस जानवर की ओर किसी ने देखना उचित नही समझा। ऐसे में आश्रम के भोजनालय के पास पड़ी मरी हुई गाय को कुत्ते नोचते रहे लेकिन कोई एक बचाव के लिए आगे नही आया।

संग्रामपुर थाना अंतर्गत टीकरमाफी स्थित स्वामी परमाहंस महाराज के आश्रम में हर मंगलवार को मेला लगता है। जिसमें हजारों दर्शनार्थी दर्शन के लिए आते हैं। मान्यता पूरा होने के बाद आए हुए दर्शनार्थी यहां प्रसाद वितरण भी कराते हैं। आज जब दर्शनार्थी यहां पहुंचे तो देखा की आश्रम के भोजनालय के ठीक सामने एक गाय मरी हुई पड़ी है जिसे कुत्ते अपना निवाला बना रहे थे।

भोजनालय के पास मरी गाय को नोच रहे थे कुत्ते:-

इस पर प्रत्यक्षदर्शी रंजीत यादव ने बताया कि हम यहां दर्शन करने आए तो देखा भोजनालय जहां प्रसाद बन रहा है वहां गाय मरी हुई पड़ी है, कुत्ते नोंच कर खा रहे हैं। यहां जो कार्यकर्ता हैं उनसे मैने इस संबंध में बात की तो उनका ये जवाब था कि ये उनका भोजन है। रंजीत ने कहा कि ये आश्रम से लोगों की श्रद्धा जुड़ी है इन लोगों को सोचना चाहिए।

इस बाबत आश्रम में माली का काम करने वाले मोहन लाल ने बताया कि गाय मरी थी हम सुबह इसको देखे थे। महाराज देखे, कहे हैं कि मेला हट जाए तो हटवाएगे। आश्रम के महाराज का कहना है कि दस मिनट पहले ही गाय मरी है, मेले के कारण नही हट सकी है। हम उसे हटवा देंगे।