Home » यू पी/उत्तराखण्ड » संतकबीर नगर--कमजोर बच्चों के लिए अलग से चलाई जाएं कक्षाए-रवीश_रिपोर्ट--बिट्ठल दास

संतकबीर नगर--कमजोर बच्चों के लिए अलग से चलाई जाएं कक्षाए-रवीश_रिपोर्ट--बिट्ठल दास

ऽ जिलाधिकारी ने स्कूल, पशु आश्रय केन्द्र का किया निरीक्षण, दिया निर्देश।संतकबीरनगर। जिलाधिकारी रवीश...

संतकबीर नगर--कमजोर बच्चों के लिए अलग से चलाई जाएं कक्षाए-रवीश_रिपोर्ट--बिट्ठल दास
Share Post


ऽ जिलाधिकारी ने स्कूल, पशु आश्रय केन्द्र का किया निरीक्षण, दिया निर्देश।

संतकबीरनगर। जिलाधिकारी रवीश गुप्ता अपने निरीक्षण का क्रम जारी रखते हुए बृहस्पतिवार को बघौली शिक्षा क्षेत्र स्थित प्राथमिक विद्यालय सिहटीकर द्वितीय का निरीक्षण किया गया। कक्षाओ में बच्चो के प्रश्न उत्तर में कमजोर मिले बच्चो को अलग से कक्षाए चलाकर उनकी शैक्षिक ज्ञान को बढ़ाये जाने के लिए निर्देश दिया। उन्होने अपना आदेश जारी करते हुए यह व्यवस्था जनपद के समस्त प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयो में किये जाने के लिए कहा। उक्त निरीक्षण के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए जिलाधिकारी रवीश गुप्ता ने बताया कि विद्यालय में बच्चो की संख्या ठण्ड की वजह से कम मिली है। बच्चो की संख्या बढ़ाये जाने के लिए शिक्षको को निर्देश दिया गया। उन्होने प्रेरणा एप के तत्समय काम न करने के कारण फार्मेट तैयार किया हुआ मिला। एमडीएम मीनू के अनुसार बना हुआ था। कक्षा 1 से 5 तक के अलग-अलग कक्षाओ के बच्चो को उनके द्वारा पढ़ाया गया। हर विषयो में बच्चो के ज्ञान की क्षमता ठीक रही। कुछ विषयो में कमजोर पाये जाने पर उन्होने अलग से कक्षाए चलाये जाने का निर्देश दिया। बाउण्ड्री वाल निर्माण के लिए निर्देश दिया गया। शौचालय में मरम्मत की आवश्यकता है। जूता-मोजा, गणवेश, स्वेटर वितरित हुआ था। विद्यालय समिति की नियमित बैठक कराये जाने का निर्देश दिया गया। इसी क्रम में जिलाधिकारी रवीश गुप्ता बघौली विकास खण्ड क्षेत्र के धनखिरिया पशु आश्रय स्थल का निरीक्षण किया गया। 36 पशु मिले जो रजिस्टर में दर्ज है। उन्होने बताया कि वर्तमान में 2 पशु बीमार है जिनका इलाज चल रहा है ठण्ड से बचाव के लिए टीन शेड पर प्लास्टिक के कवर चारो तरफ लगे हुए है अलाव जलता पाया गया लेकिन सभी पशुओ पर बोरे नही लगे थे। उन्होने निर्देश दिया कि सभी पशुओ के शरीर पर बोरा बांधे जिससे जानवरो को ठण्ड न लगे। उन्होने बताया कि प्रधान के पहल पर जनसहयोग से चारा पर्याप्त मात्रा में है और जानवरो को दिया जा रहा है। उन्होने प्रधान की प्रशंसा करते हुए बधाई दिया।