Home » यू पी/उत्तराखण्ड » बदायूँ-- डीएम कुमार प्रशांत ने की विकास समीक्षा_रिपोर्ट-संजीव सक्सेना

बदायूँ-- डीएम कुमार प्रशांत ने की विकास समीक्षा_रिपोर्ट-संजीव सक्सेना

बदायूं-डीएम ने कहा कि समाज कल्याण, पंचायत, अर्थ एवं संख्या कार्यालयों के एडीओ मनमानी छोड़कर सरकारी...

बदायूँ-- डीएम कुमार प्रशांत ने की विकास समीक्षा_रिपोर्ट-संजीव सक्सेना
Share Post


बदायूं-डीएम ने कहा कि समाज कल्याण, पंचायत, अर्थ एवं संख्या कार्यालयों के एडीओ मनमानी छोड़कर सरकारी योजनाआंे को भलीभांति अंजाम दें और किसी भी गलतफहमी में न रहें। याद रखें कि एडीओ के ऊपर भी अधिकारी बैठे हैं। लापरवाही बरतने पर उनके विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी।

मंगलवार को अटल बिहारी वाजपेयी सभागार में डीएम ने विभिन्न विकास कार्यों की समीक्षा की। 10 किलोेमीटर के अन्तराल पर बनाए जा रहे स्वच्छ शौचालयों के निर्माण की समीक्षा में पाया कि ब्लाक एवं नगरीय क्षेत्रों में कार्य प्रगति पर तो है लेकिन अभी किसी स्थान का कार्य पूर्ण नहीं हुआ है। डीएम ने एएनएम संेटर के सौंदर्यकरण, टाइल, रंगाई-पुताई की समीक्षा के दौरान हिदायत दी कि सौंदर्यकरण का कार्य प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण किया जाए। डीएम ने संस्थागत प्रसव के लिए एएनएम, आशा वर्कर्स को जिला स्तर पर ट्रेनिंग कराने हेतु सीडीओ निशा अनंत को हिदायत दी और कहा कि इस टेªनिंग में ग्राम प्रधानों को बुलाया जाए, जिससे वह गर्भवती महिलाओं को यह समझा सकें कि घर पर प्रसव न कराकर संस्थागत प्रसव प्रशिक्षित एएनएम की निगरानी में ही कराया जाए। बीडीओ सहसवान ने अवगत कराया कि स्वास्थ्य उपकरण धूल फांक रहे हैं, यदि अनटाइड फंड का उपयोग किया जाए तो इनको सुधारा जा सकता है। डीएम ने अनटाइड फंड का उपयोग करने के निर्देश दिए हैं। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन राम निवास शर्मा सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

गौशालाओं में गौवंशीय पशुओं के चारे की कमी न होने पाए। कहीं कमी हो तो तत्काल मांग पत्र उपलब्ध कराया जाए। सीवीओ ने बताया कि गौवंशीय पशुओं पर व्यय राशि का आॅडिट भी किया जाएगा। डीएम ने प्रेरणा एप्प के सम्बंध में भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों की बाउंड्री वाल पर कटीले तारों की वैरिकेटिंग करने हेतु प्रस्ताव तैयार किया जाए, जिससे छात्राओं को और सुरक्षा मिल सके। प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर शत-प्रतिशत उपस्थिति के लिए वायोमैट्रिक मशीन न लगाने पर सभी एमओआईसी का वेतन आहरण नहीं किया जाएगा। उन्होंने दिव्यांगजनों की आधार सीडिंग, महिला हेल्प उरर्वक की उपलब्धता बदायूँ-सहसवान फोरलेन के निर्माण कार्य, पेयजल मिशन, मनरेगा, राशन कार्डाें की आधार सीडिंग आदि कार्याें की समीक्षा की।