Home » यू पी/उत्तराखण्ड » देवरिया-परिवार नियोजन में अंतरा-छाया कारगर: डॉ शशिप्रभा _रिपोर्ट-अरविन्द वर्मा

देवरिया-परिवार नियोजन में 'अंतरा-छाया' कारगर: डॉ शशिप्रभा _रिपोर्ट-अरविन्द वर्मा

-स्टॉफ नर्स, बीसीपीएम व एचईओ को किया प्रशिक्षितदेवरिया- 20 नवम्बर 2019 राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के...

देवरिया-परिवार नियोजन में अंतरा-छाया कारगर: डॉ शशिप्रभा _रिपोर्ट-अरविन्द वर्मा
Share Post



-स्टॉफ नर्स, बीसीपीएम व एचईओ को किया प्रशिक्षित

देवरिया- 20 नवम्बर 2019 राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत सीएमओ कार्यालय के सभागार में परिवार नियोजन कार्यक्रम के बारे

में जिले के सभी सीएचसी-पीएचसी के स्टॉफ नर्स, ब्लाक कम्यूनिटी प्रोसेस मैनेजर (बीसीपीएम), स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी (एचईओ) को एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। इस अवसर पर गर्भ -निरोधक अंतरा तथा छाया सहित अन्य साधनों के बारे में विस्तार से बताया गया ।

प्रशिक्षक डॉ शशिप्रभा ने बताया परिवार को नियोजित करने के उद्देश्य से परिवार कल्याण कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें गर्भ निरोधक उपाय के बारे में बताया जा रहा है। इसी कड़ी में गर्भ-निरोधक अंतरा एवं छाया का प्रारंभ किया गया है। अंतरा एक गर्भनिरोधक इंजेक्शन है जो प्रत्येक तीन महीने पर लगाया जाता है। छाया एक गर्भ निरोधक गोली है जिसे सप्ताह में एक बार उपयोग करना है। मास्टर ट्रेनर जिला परिवार नियोजन विशेषज्ञ राजेंद्र सिंह ने बताया कि वर्तमान में सरकारी स्वास्थ्य इकाईयों पर गर्भ-निरोधक साधनो के रूप में निरोध, ओरल, पिल्स, कॉपर-टी, पीपीआईयूसीडी, महिला नसबंदी, पुरुष नसबंदी की सुविधा के साथ अंतरा एवं छाया इंजेक्शन निशुल्क उपलब्ध है। अंतरा व छाया दोनों विधियां उन महिलाओं के लिए भी उपयोगी है जो स्तनपान करा रही है। क्योंकि इसके उपयोग से दूध की गुणवत्ता एवं मात्रा प्रभावित नहीं होती है

प्रशिक्षण में दिनेश्वर मिश्रा, बीसीपीएम अजीत, पंकज, नंदिनी, गीता रानी, मालती सहित अन्य स्टाफ नर्स मौजूद रहीं ।

परिवार नियोजन के प्रति करेंगी जागरूक

स्टाफ नर्स गीता रानी ने कहा कि प्रशिक्षण में परिवार नियोजन के प्रति दिए गए प्रशिक्षण के माध्यम से महिलाओं की काउंसलिंग कर गर्भ निरोधक साधनों को अपनाने की सलाह देकर परिवार नियोजन के प्रति जागरूक करेंगी