Home » यू पी/उत्तराखण्ड » बदायूं-मिनी कुंभ मेले में निकली गंगा की स्वच्छता के लिए प्रभात फेरी _रिपोर्ट-संजीव सक्सेना

बदायूं-मिनी कुंभ मेले में निकली गंगा की स्वच्छता के लिए प्रभात फेरी _रिपोर्ट-संजीव सक्सेना

बदायूँ -जनपद बदायूँ में मिनी कुभ मेला ककोड़ा में गायत्री परिवार ने निर्मल गंगा जन अभियान के अंतर्गत...

बदायूं-मिनी कुंभ मेले में निकली गंगा की स्वच्छता के लिए प्रभात फेरी _रिपोर्ट-संजीव सक्सेना
Share Post


बदायूँ -जनपद बदायूँ में मिनी कुभ मेला ककोड़ा में गायत्री परिवार ने निर्मल गंगा जन अभियान के अंतर्गत गंगा किनारे श्रद्धालुओं द्वारा घर से लाई गई पूजा सामग्री, पाॅलीथीन और मूर्तियों का गायत्री परिजनों ने गढ्ढा खोदकर भू विसर्जन किया। प्रातः मेले में गंगा स्वच्छता जारूकता प्रभात फेरी निकालने के बाद गायत्री महायज्ञ हुआ। श्रद्धालुओं ने लोक कल्याण के यज्ञ भगवान को विशेष आहुतियां समर्पित की।

निर्मल गंगा जन अभियान के जिला संयोजक सुखपाल शर्मा ने कहा गंगा और हिमालय एक दूसरे से अविच्छिन्न रूप से जुड़े हैं। देवात्मा हिमालय और मां भागीरथी दोनों ने ही मिलकर सृष्टि के आदि से अब तक भारत को समृद्ध संपन्न बनाने में नहीं, आस्था उन्नयन में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। प्राचीन काल में गंगा किनारे ही पहला मंदिर बना। गंगा के तटवर्ती क्षेत्रों में ही पहला जनपद बसा।

नशा एवं व्यसन मुक्ति अभियान के जिला संयोजक रघुनाथ सिंह ने कहा कि गंगा जन्म जन्मांतरों के दुःखों को दूर कर शंकित मन, प्राणों को शांति और तृप्ति प्रदान करती है।

आगरा से आए नरेंद्र सिंह ने कहा कि गंगा जल में टीबी, अतिसार, संग्रहणी, व्रण, हैजा के साथ संक्रामक रोगों के कीटाणुओं और जीवाणुओं को मारने की जबरदस्त शक्ति और अद्भुत क्षमता होती है। रोगों को हटाकर सात्विक आनंद का स्त्रोत फोेड़कर आश्चर्यजनक ढंग से जीवनीशक्ति बढ़ाता हैै।

गायत्री परिवार के संजीव कुमार शर्मा ने कहा कि गंगा जल औषधि, धरती की अमृतधारा और हिमालय का अमृत रस है। गंगा जल में प्राण तत्व और जीवनीशक्ति की अधिकता से मनुष्य में दिव्य गुण, धर्म, स्वभाव, आचार और विचारों में अभिवृद्धि होती है।

गायत्री परिजन नरेंद्र कुमार ने कहा कि गंगा जल में प्रोटेक्टिव काॅलोइड्स होने से सदा पवित्र और कीटाणु रहित रहता है। शारीरिक मानसिक रोगों का निवारण, आरोग्य और मनोबल को बढ़ाता है।

गंगा तट पर रामकिशन नारद, रामवीर सिंह, नरेंद्र सिंह के नेतृत्व में गायत्री परिजनों ने गंगा घाटों गंगा घाट पर भी सफाई अभियान चलाया। श्रद्धालुओं द्वारा घर से लाई गई पूजा सामग्री, पाॅलीथीन, पुरानी किताबें और मूर्तियों का गढ्ढा खोदकर भूविर्सजन किया। प्रज्ञा मंडल के संजीव कुमार ने प्रातः प्रभात फेरी निकाली और मेले में आए श्रद्धालुओं को गंगा पावनता के लिए जागरूक किया।

इस मौके पर तेजराम, भवेश शर्मा आयुष आदि मौजूद रहे।