Home » यू पी/उत्तराखण्ड » बदायूं में स्कूली बच्चों ने गंगा संरक्षण और स्वच्छता पर दिया सन्देश_रिपोर्ट-संजीव सक्सेना

बदायूं में स्कूली बच्चों ने गंगा संरक्षण और स्वच्छता पर दिया सन्देश_रिपोर्ट-संजीव सक्सेना

कछला (बदायूं)। भारत सरकार की गंगा एक्सपीडिशन टीम गंगा को पुराने स्वरूप में लाने का संदेश देने के...

बदायूं में स्कूली बच्चों ने गंगा संरक्षण और स्वच्छता पर दिया सन्देश_रिपोर्ट-संजीव सक्सेना
Share Post




कछला (बदायूं)। भारत सरकार की गंगा एक्सपीडिशन टीम गंगा को पुराने स्वरूप में लाने का संदेश देने के लिए कछला के भागीरथ घाट पर पहुंची। सभी सदस्यों को प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

गंगा एक्सपिडिशन टीम 10 अक्टूबर से देवप्रयाग से गंगा संरक्षण अभियान शुरू करते हुए आज मंगलवार को कछला के भागीरथ घाट पर पहुंची। गंगौत्री से गंगासागर तक की इस यात्रा में 34 पड़ाव हैं। टीम में जल, थल तथा वायु सेना के नौ अधिकारियों समेत 16 सदस्य हैं। नवागत जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी निशा अनंत, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार त्रिपाठी ने टीम का स्वागत करते हुए जिले में गंगा संरक्षण के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी। इसके बाद दीप प्रज्ज्वलन के साथ कार्यक्रम की शुरुआत हुई।

कछला के राधेलाल इंटर कॉलेज, टीथोनस और एचपी इंटरनेशनल स्कूल के बच्चों ने गंगा संरक्षण, स्वच्छता का संदेश देते हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम, लघु नाटक प्रस्तुत कर अतिथियों का मन मोह लिया।

गंगा एक्सपिडिशन टीम ने कार्यक्रम में यात्रा के अनुभवों को लोगों के साथ साझा किया। गंगा एक्सपिडिशन अभियान के प्रमुख विंग कमांडर परमवीर सिंह बताया कि यह उनकी तीसरी गंगा यात्रा है। गंगा को बचाने के लिए पहली यात्रा गंगोत्री तक 2013 मे की थी। इसके बाद तैरते हुए 2015 में यात्रा की थी। उन्होने जगह जगह रुककर लोगों को मां गंगा को बचाने की शपथ दिलाई है। यह जल संपर्क जन संपर्क अभियान है। लोगों को जल से जोड़ना है। लोग स्वच्छता के प्रति जागरूक हुए हैं।

वहीं रोटरी क्लब के मंडल अध्यक्ष किशोर कटरू के नेतृत्व में रोटरी क्लब ऑफ़ बदायू सेंट्रल, रोटरी क्लब उझानी क्लासिक, रोटरी क्लब बिसौली, रोटरी क्लब कासगंज ने गंगा एक्सपिडिशन टीम का स्वागत कर भोजन की व्यवस्था की गयी। इस दौरान उझानी नगर अध्यक्ष सुमित माहेश्वरी, सचिव विवेक वार्ष्णेय, कोषाध्यक्ष अनुराध धींगडा मौजूद रहे।

इस अवसर पर विंग कमाण्डर परमवीर सिंह, स्क्वाड्रन लीडर दीप्ति बी कोस्ठी, सर्जेन्ट श्रीहरि सरिपल्ली एवं सर्जेन्ट जॉनी वी जे, पी.ओ. विकेस कुमार इण्डियन नेवी, हवलदार राजेश कुमार, हवलदार देवेन्द्र सिंह, करपोरल अमरेन्द्र वत्स, विकी टोकस, एनडीआरएफ के सदस्यगण, ऑफिसर एवं सिपाही, राष्ट्रीय वन्यजीव संस्थान देहरादून के सदस्यगण, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टाक्सिकोलोजी रिसर्च लखनऊ के सदस्यगण, राष्ट्रीय एवं राज्य स्वच्छ गंगा मिशन के सदस्यगण मौजूद रहे।