Home » यू पी/उत्तराखण्ड » संतकबीरनगर-विजयादशमी: मेलार्थियो के लिए जगह-जगह पर भण्डारे का आयोजन_रिपोर्ट बिट्ठल दास

संतकबीरनगर-विजयादशमी: मेलार्थियो के लिए जगह-जगह पर भण्डारे का आयोजन_रिपोर्ट बिट्ठल दास

पूरे जनपद में शान्तिपूर्ण ढंग से माॅ दुर्गा की प्रतिमा हुई विसर्जित, आस्था और पवित्रता का प्रतीक...

संतकबीरनगर-विजयादशमी: मेलार्थियो के लिए जगह-जगह पर भण्डारे का आयोजन_रिपोर्ट बिट्ठल दास
Share Post











पूरे जनपद में शान्तिपूर्ण ढंग से माॅ दुर्गा की प्रतिमा हुई विसर्जित, आस्था और पवित्रता का प्रतीक नवरात्र महापर्व का हुआ समापन

संतकबीरनगर/सेमरियावा। जनपद में नवरात्र के दिनों में स्थापित दुर्गा प्रतिमाओं में से 618 मूर्तियों का विसर्जन विजयदशमी के दिन मंगलवार और बुधवार को पूजन के बाद निकटस्थ नदियों में देर रात तक शांतिपूर्ण ढंग से की गई। आयोजक समिति के सदस्यों ने उत्साह पूर्वक जुलूस निकाल कर मूर्तियों का विसर्जन किया। जगह-जगह दशहरे के अवसर पर आयोजित होने वाले मेले में काफी रौनक रही। मेलार्थियो के लिए जगह-जगह भण्डारे का आयोजन किया गया था। हर कदम पर उन्हे पानी व प्रसाद की व्यवस्था व्यापक स्तर पर रही कही भी किसी को असुविधा नही हुई। सर्वप्रथम जिलाधिकारी रवीश गुप्ता माॅ समय मन्दिर में पूजन अर्चन के बाद नौ कन्याओ को भोजन खिलाने के उपरान्त प्रसाद वितरण का उद्वधाटन किया इस अवसर पर श्री समय महारानी ट्रस्ट के अध्यक्ष अमरनाथ रूंगटा, कैलाशपति रूंगटा, पवन मोदनवाल, नवीन गुप्ता, प्रिन्स वर्मा, देवेन्द्र मिश्रा, अमित जैन सहित अन्य सदस्य उपस्थित रहे। इसी क्रम में खलीलाबाद कस्बा के आजाद चैक से बैंक चैराहे तक जगह-जगह भण्डारे का आयोजन मेलार्थियो के लिए किया गया था। कई स्थानो पर समाजसेवियो ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हुए तन, मन, धन के साथ सेवा दिये। पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष जगत जायसवाल ने विधयानी एवं गोला बाजार में अपने हाथो से मेलार्थियो को प्रसाद वितरण किया। वही समाजसेवी अमित जैन ने प्रतिष्ठित व्यापारी स्व0 भोला फैजाबादी के आवास के सामने मेलार्थियो में प्रसाद वितरण किया। नगर पालिका अध्यक्ष श्याम सुन्दर वर्मा ने गोला बाजार में प्रसाद वितरण कर भण्डारा का शुभारम्भ किया। देर शाम खलीलाबाद के मोती चैराहा से माॅ दुर्गा की प्रतिमा विसर्जन के लिए प्रारम्भ होते हुए गांजे-बाजे के साथ बैंक चैराहा, गोला बाजार, आजाद चैक, बरदहिया रोड होते हुए मगहर के लिए प्रस्थान किया। पूरे जनपद में सकुशल माॅ दुर्गा की प्रतिमा अस्थायी पोखरा में विसर्जित की गई। कही से कोई अप्रिय घटना घटित होने की सूचना नही मिली। जिलाधिकारी रवीश गुप्ता एवं पुलिस अधीक्षक ब्रजेश सिंह अपने अधीनस्थ अधिकारियो से लगातार विसर्जन होने की सूचना अपने अधिकारियो से प्राप्त करते रहे। एसपी ब्रजेश सिंह ने बताया कि जनपद में 640 मूर्तिया स्थापित थी। शांतिपूर्ण माहौल में मंगलवार को 501 और बुधवार को 117 मूर्तियों का विसर्जन हुआ। दो मूर्तियों का विसर्जन 10 अक्तूबर को और शेष मूर्तियों का विसर्जन पूर्णिमा के दिन होगा। सेमरियावा प्रतिनिधि के अनुसार मंगलवार को दुधारा थाना क्षेत्र के विभिन्न गांवो में नव दिवसीय शारदीय नवरात्र मां पूजा उत्सव का समापन हुआ इस दौरान क्षेत्र के विभिन्न गांवो की प्रतिमाएंओं को श्रध्दालुओं ने अपने निकटवर्ती नदियों एवं पोखरे में पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में शांतिपूर्ण ढंग से विसर्जित किया। इस दौरान क्षेत्र के दशावां, गंगैचा, टेकन्सा, लोहरौली, पिपरा बोरिंग, भिटवा, कुसुरू मुड़ाडीहा बेग, सेमरियावां, बाघनगर सहित विभिन्न गांवो से श्रध्दालुओं ने मूर्तियों को ट्रेक्टर ट्राली एवं उचित साधनों पर रखकर मां का जयकारे लगाते हुए धुन पर नाचते गाते चल रहे थे जिससे समुचा माहौल भक्ति मय हो गया। श्रध्दालुओं ने प्रतिमाओं को क्षेत्र के कठिनाई पुल बाघनगर, सिकारिया नाला, भगौसा घाट, पड़ारिया पुल तथा रायघाट पुल पर पुलिस की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच विसर्जन किया। एसओ दुधारा ने बताया कि मंगलवार को 73 मूर्तियों का विसर्जन शांति पूर्ण ढंग से सम्पन्न हुआ जिसमें 4 स्थायी मूर्तियां थी साथ ही बताया कि बुधवार को 3 एवं शेष 5 मूर्तियों का विसर्जन पूर्णिमा के दिन होगा। मेले का हुआ आयोजन मूर्ति विसर्जन के पश्चात श्रध्दालुओं एवं क्षेत्रवासियों ने मेले का जमकर आनंद उठाया इस दौरान जगह जगह सुरक्षा को लेकर पुलिस प्रशासन मुस्तैद रहा।