Home » यू पी/उत्तराखण्ड » सुलतानपुर जिले के सभी आंगवाड़ी केन्द्रों पर मनाया गया अन्नप्राशन दिवस_रिपोर्ट:-अज़हर अब्बास

सुलतानपुर जिले के सभी आंगवाड़ी केन्द्रों पर मनाया गया अन्नप्राशन दिवस_रिपोर्ट:-अज़हर अब्बास

सुलतानपुर--------पोषण माह के अन्तर्गत जनपद के सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों पर अन्नप्रशन दिवस तथा बाल...

सुलतानपुर जिले के सभी आंगवाड़ी केन्द्रों पर मनाया गया अन्नप्राशन दिवस_रिपोर्ट:-अज़हर अब्बास
Share Post


सुलतानपुर--------पोषण माह के अन्तर्गत जनपद के सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों पर अन्नप्रशन दिवस तथा बाल सुपोषण उत्सव का आयोजन किया गया। इस अवसर पर सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों पर 06 माह की आयु पूर्ण कर चुके बच्चों अन्नप्राशन संस्कार करके अन्नप्राशन दिवस मनाया गया। माताओं को 06 माह की आयु पूर्ण कर चुके बच्चों को ऊपरी आहार प्रारम्भ करने की सलाह दी गयी। बाल विकास परियोजना कूरेभार में संचालित खेड़डूडापुर आंगनवाड़ी केन्द्र पर 03 बच्चों अन्नप्राशन संस्कार उपायुक्त श्रम एवं रोजगार विनय श्रीवास्तव व जिला कार्यक्रम अधिकारी रविश्वर कुमार राव द्वारा किया गया।

इस अवसर पर जिला स्वास्थ्य भारत प्रेरक शिवानन्द शुक्ल ने बताया कि अन्नप्राशन संस्कार हमारे पूर्वज सदियों पूर्व से करते आ रहें हैं। इसका उद्देश्य बच्चों को ऊपरी आहार की शुरूआत करवाना है। 06 माह पूर्ण कर चुके बच्चों को मां के दूध से सम्पूर्ण पोषण नहीं मिल पाता। इसलिये उसे ऊपरी आहार की आवश्यकता होती है। बच्चों को घर का बना हर तरह का भोजन कराना चाहिये, जिससे बच्चे का पूर्ण विकास हो सके। शिवानन्द शुक्ल ने बताया कि इस वर्ष पोषण माह की थीम बच्चे के सुनहरे एक हजार दिन हैं बच्चे के प्रारम्भ के 02 सालों में 75 प्रतिशत मस्तिष्क का विकास होता है। इसलिये यह अवधि विशेष ध्यान देने की होती है। स्वच्छता का विशेष ध्यान रखना होता है। उन्होंने बताया कि एनीमिया से बचाव के लिये लोहे के बर्तन का प्रयोग करना चाहिये।

कार्यक्रम में बाल विकास परियोजना अधिकारी कूरेभार राजेन्द्र प्रसाद, ग्राम प्रधान, मुख्य सेविका, आशा व आंगनवाड़ी कार्यकत्री आदि उपस्थित रहे।