Home » यू पी/उत्तराखण्ड » सन्तकबीरनगर_महुली क्षेत्र के नहर में शव मिलने से हड़कंप-राशिदा खान की रिपोर्ट

सन्तकबीरनगर_महुली क्षेत्र के नहर में शव मिलने से हड़कंप-राशिदा खान की रिपोर्ट

महुली थाना क्षेत्र के ग्राम कोडरा निवासी 44 वर्षीय व्यक्ति का शव बुधवार को सरयू नहर पुल के नीचे...

सन्तकबीरनगर_महुली क्षेत्र के नहर में शव मिलने से हड़कंप-राशिदा खान की रिपोर्ट
Share Post


महुली थाना क्षेत्र के ग्राम कोडरा निवासी 44 वर्षीय व्यक्ति का शव बुधवार को सरयू नहर पुल के नीचे से मिलने से हड़कंप मच गई। सूचना पाकर मौके पर जुटे गोताखोरों ने घण्टो प्रयास के बाद शव निकाला। उसकी पहचान महेंद्र यादव के रूप में की गई। परिजनों के अनुसार मंगलवार की देर शाम महेंद्र अपनी पत्नी को बहन के घर छोड़ने गया हुआ था। उसके बाद से ही लापता हो गया। अंतिम लोकेशन मगहर में मिला था। पुलिस नेबशव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम की तैयारी शुरू कर दी है। उसके चेहरे व शरीर के अन्य हिस्सों पर चोट का निशान मिले है।

महुली थाना क्षेत्र के ग्राम कोडरा निवासी महेंद्र यादव पुत्र राजबली सोंमवार को पत्नी सरोज देवी को बाइक से गोरखपुर जिला के सहजनवा थाना क्षेत्र के ग्राम भरपई स्थित बहन के वहा पहुंचाने गया हुआ था। परिजनों के अनुसार पत्नी को छोड़कर मंगलवार की देर शाम वह घर के निकला था। बुधवार की सुबह शौच के लिए निकले कुछ ग्रामीण चंदहर गाँव के समीप सरयू नहर पुलिया पर लावारिश खड़ी बाइक देखा। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। परिजन भी मौके पर पहुँच गए । बाइक की पहचान की गई । ग्रामीणों की जिद पर क्षेत्र से पुलिस ने गोताखोरों को बुलाया । गोताखोरों के माध्यम से शव को बाहर निकाला गया तो उसकी पहचान महेंद्र यादव के रूप में हुई। मृतक के भाई अवधेश कुमार ने बताया कि बहन के वहां एक दिन रहने के बाद बुधवार की देर शाम भाई महेंद्र यादव बाइक से वापस घर आ रहा था। काफी देर तक जब वह नही पहुँचा। तो मन में किसी अनहोनी की आशंका से महेंद्र के मोबाईल पर फोन लगाया गया। फोन स्वीच आफ आ रहा था। इसके बाद भांजा गोलू से पूछा गया तो बताया कि मामा ने मगहर पहुचने की बात बताई थी। शव मिलने पर उसकी हत्या किए जाने का आरोप लगाया जा रहा है। जबकि महेंद्र यादव की हत्या क्यो और कैसे की गई यह पूरी तरह से रहस्य बना हुआ है-राशिदा खान की रिपोर्ट