Home » यू पी/उत्तराखण्ड » संतकबीरनगर में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान डीएम ने सुनी जनसमस्या, निस्तारण का दिया निर्देश_रिपोर्ट-बिट्ठल दास

संतकबीरनगर में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान डीएम ने सुनी जनसमस्या, निस्तारण का दिया निर्देश_रिपोर्ट-बिट्ठल दास

संतकबीरनगर। जनपद के तीनो तहसीलो पर मंगलवार को सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन हुआ। डीएम-एसपी ने...

संतकबीरनगर में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान डीएम ने सुनी जनसमस्या, निस्तारण का दिया निर्देश_रिपोर्ट-बिट्ठल दास
Share Post


संतकबीरनगर। जनपद के तीनो तहसीलो पर मंगलवार को सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन हुआ। डीएम-एसपी ने खलीलाबाद तहसील पर फरियाद सुनी। इस दौरान तीनों तहसीलों पर कुल 164 मामले आए जिसमें से मात्र 16 का ही निस्तारण हो पाया। खलीलाबाद तहसील पर आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस पर डीएम रवीश गुप्त ने कहा कि तहसील पर आने वाले फरियादियो की समस्याओं का निस्तारण संबंधित विभाग प्राथमिकता के आधार पर करें। इसमें किसी प्रकार की कोताही न बरते। इस दौरान कुल 64 मामले आए जिसमें से आठ का निस्तारण हुआ। अन्य मामलो को संबंधित विभागो को भेज दिया गया। इस दौरान एसपी ब्रजेश सिंह, सीएमओ डा0 हरगोविन्द सिंह, बीएसए सत्येन्द्र कुमार सिंह, डीआईओएस गिरीश कुमार सिंह, डीपीआरओ आलोक प्रियदर्शी, उप जिलाधिकारी एस0पी0 सिंह, सीओ सदर रमेश कुमार समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे। इसी तरह से धनघटा तहसील पर उप जिलाधिकारी प्रमोद कुमार ने फरियाद सुनी। इस दौरान कुल 62 मामले आए जिसमें से मात्र एक का निस्तारण हो पाया। अन्य मामले संबंधित विभागो को भेज दिए गए। इस अवसर पर सीओ ए0के0 पाण्डेय समेत अन्य मौजूद रहे। इस तरह से मेंहदावल तहसील में सम्पूर्ण तहसील समाधान दिवस की अध्यक्षता सीडीओ बब्बन उपाध्याय ने की। उन्होने कहा कि इन दिवसों के आयोजन के पीछे शासन की मंशा है कि स्थानीय स्तर पर छोटे मोटे विवाद का निस्तारण बातचीत व सूझ बुझ से तत्काल किया जाए। जिससे छोटे विवादो में वाद की स्थिति न पैदा हो। सरकार के निर्देशो का अनुपालन जमीनी स्तर पर दिखे यह हमारा दायित्व होना चाहिए। इस दौरान 38 मामले आए जिनमें सात का निस्तारण मौके पर किया गया। इस दौरान उप जिलाधिकारी प्रेम प्रकाश अजोर, तहसीलदार प्रियंका चैधरी, सीओ जीडी मिश्रा, प्रभारी एस0ओ0 कैलाश यादव, एडीओ पंचायत मैनुद्दीन सिद्दीकी, अवर अभियंता ड्रेनेज वीरेन्द्र यादव, राजेश श्रीवास्तव समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।