Home » यू पी/उत्तराखण्ड » बलरामपुर- स्कूल में दौड़ा हाईवोल्टेज करंट, 52 बच्चे आये करंट की जद में, उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती_रिपोर्ट-रवि गुप्ता

बलरामपुर- स्कूल में दौड़ा हाईवोल्टेज करंट, 52 बच्चे आये करंट की जद में, उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती_रिपोर्ट-रवि गुप्ता

बलरामपुर के प्राथमिक विद्यालय नयानगर विशुनपुर में रोज की तरह पढ़ने के लिए छात्र-छात्राएं विद्यालय...

बलरामपुर- स्कूल में दौड़ा हाईवोल्टेज करंट, 52 बच्चे आये करंट की जद में, उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती_रिपोर्ट-रवि गुप्ता
Share Post





बलरामपुर के प्राथमिक विद्यालय नयानगर विशुनपुर में रोज की तरह पढ़ने के लिए छात्र-छात्राएं विद्यालय पहुंची। मध्यान भोजन की छुट्टी होने पर सभी छात्र छात्राएं मैदान में खेल रहे थे तभी अचानक विद्यालय के ऊपर से गुजर रही हाईटेंशन लाइन अचानक टूट कर विद्यालय पर गिर पड़ी। लगातार तीन दिनों से बारिश होने के कारण विद्यालय में और विद्यालय की जमीन में अचानक करंट दौड़ गया जिसकी चपेट में आने से करीब 52 बच्चों को जबरदस्त करंट का झटका लगा। आनन-फानन में अध्यापकों ने 108 एंबुलेंस को कॉल करके विद्यालय में बुलाया। मौके पर पहुंची एंबुलेंस से सभी बच्चों को पास के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उतरौला व एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है । घटना की सूचना मिलते ही भारी संख्या में परिजन व आला अधिकारी भी अस्पताल में पहुंचने लगे। बताया जा रहा है घटना के वक्त करीब 100 विद्यार्थी विद्यालय में मौजूद थे जिनमें से 52 बच्चों को करंट का झटका लगा। बताया जा रहा है कि 4 बच्चों की हालत अभी गंभीर बनी हुई है। प्रशासन की मानें तो सभी बच्चे अब खतरे से बाहर हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला प्रशासन ने आनन-फानन में कार्यवाही करते हुए एक संविदा कर्मी व स्किल कुली इब्ने हसन को निलंबित कर दिया है और अवर अभियंता उतरौला प्रियदर्शी तिवारी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के निर्देश दे दिए हैं। जिलाधिकारी ने बीएसए को निर्देश दिया है कि जिले के सभी विद्यालयों की 2 दिन में जांच करवा ले यदि किसी भी विद्यालय के ऊपर से किसी भी तरह के विद्युत तार जा रहे हो तो उसे फौरन हटवाने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। जिस भी स्कूल में जलभराव की स्थिति है उन विद्यालयों को पानी निकलने तक बंद करने के भी निर्देश दे दिए गए हैं।