Home » यू पी/उत्तराखण्ड » अम्बेडकरनगर- सरकारी स्कूलों की वार्षिक परीक्षाएं बनी मजाक_आलोक यादव की रिपोर्ट

अम्बेडकरनगर- सरकारी स्कूलों की वार्षिक परीक्षाएं बनी मजाक_आलोक यादव की रिपोर्ट

अम्बेडकरनगर:- रामनगर खण्ड शिक्षा क्षेत्र में परिषदीय विद्यालयों की वार्षिक परीक्षाएं मजाक बनकर रह...

👤 Ajay22 March 2017 12:37 PM GMT
अम्बेडकरनगर- सरकारी स्कूलों की वार्षिक परीक्षाएं बनी मजाक_आलोक यादव की रिपोर्ट
Share Post


अम्बेडकरनगर:- रामनगर खण्ड शिक्षा क्षेत्र में परिषदीय विद्यालयों की वार्षिक परीक्षाएं मजाक बनकर रह गई हैं कभी कहीं बच्चे परीक्षा के दौरान उछल-कूद में व्यस्त हैं तो कहीं एक दूसरे से घुल मिलकर परीक्षाएं दे रहे हैं मजेदार तो यह है कि जब जिम्मेदार ही परीक्षाओं की गंभीरता नहीं समझ रहे हैं तो परीक्षार्थी कैसे परीक्षा दे रहे होंगे इसका सहज अनुमान लगाया जा सकता है बुधवार को रामनगर शिक्षा क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय बौरावं में परीक्षा के दौरान अजीबोगरीब स्थिति देखने को मिली प्रधानाचार्य कवल पत्ती देवी विद्यालय से नदारद रही। विद्यालय का मुख्य द्वार अन्दर से बंद कर अनुदेशक प्रेरक एवं अन्य सहायक अध्यापक अध्यापिकाऐ भी पेड़ की छांव में बैठकर गपशप में मशगूल रहे परीक्षा के दौरान कई छात्र विद्यालय की चहरदीवारी फांद कर उछल कूद करने में लगे रहे तो वहीं कई छात्र खिड़कियों पर बैठकर भोजन करते रहे। विद्यालय मे अव्यवस्था का ही आलम रहा विद्यालय में प्रेरक ज्योति व मंजू लता के अलावा अलावा सहायक अध्यापक महिमा कविता ब्रम्हावती ही मौजूद रही। बताया गया कि प्रधानाचार्य कार्यालय गई हुई है विद्यालय में ग्राम प्रधान की ओर से बनवाए गए एमडीएम बच्चे खा रहे थे बताया गया कि उन लोगों को सुबह दूध भी मिला था ग्रामीण बताते हैं कि प्रधानाध्यापिका कवलपत्ती देवी अक्सर नदारद रहती हैं या फिर समय से विद्यालय आवागमन नहीं करती है जिसके कारण मातहत भी उन्हीं की राह पर है