Home » यू पी/उत्तराखण्ड » हापुड़:- जनपद में उड़ाई जा रही धारा 144 की धज्जियां -डीएम ने आगामी 30 अप्रैल तक लगाई है जिले में धारा 144 _अवनीश पाल की रिपोर्ट

हापुड़:- जनपद में उड़ाई जा रही धारा 144 की धज्जियां -डीएम ने आगामी 30 अप्रैल तक लगाई है जिले में धारा 144 _अवनीश पाल की रिपोर्ट

हापुड़-जून व जुलाई माह में आने वाले त्योहारों को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए जिलाधिकारी अनिल...

👤 Ajay2017-03-21 17:48:45.0
हापुड़:- जनपद में उड़ाई जा रही धारा 144 की धज्जियां -डीएम ने आगामी 30 अप्रैल तक लगाई है जिले में धारा 144   _अवनीश पाल की रिपोर्ट
Share Post


हापुड़-जून व जुलाई माह में आने वाले त्योहारों को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए जिलाधिकारी अनिल ढींगड़ा द्वारा आगामी 30 अ्रपैल तक जनपद में धारा 144 लगा दी है। जिसकी 72 घंटे बाद ही खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है। युवाओं द्वारा सडक़ों पर खुलेआम राइफल व बंदूकें लहराई जा रही है। इतना ही नहीं पंपों पर पैट्रोल व डीजल एक व दो लीटर की बोतलों में खुले आम लोगों को दिया जा रहा है। इसके बावजूद भी जनपद के पुलिस प्रशासनिक अधिकारी मूकदर्शक बने बैठे है।
आपको बता दें कि मार्च अप्रैल में आने वाले नवरात्रि,राम नवमी,डा.भीमराव अंबेडकर जयंती,यूपी बोर्ड परीक्षा,स्नातक परीक्षा आदि को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए जिलाधिकारी अनिल ढींगड़ा ने जनपद में दो जून से आगामी 20 जुलाई तक धारा 144 लगा रखी है। जिसके अनुसार जनपद में संचालित पैट्रोल पंप पर पैट्रोल व डीजल का विक्रय वाहनों के अलावा खुदरा पैट्रोल व डीजल की बिक्री नहीं होगी। इसके अलावा कोई भी व्यक्ति जनपद की सीमा में शस्त्र जैसे बन्दूक,रिवाल्वर व चाकू,लाठी,डंडा लेकर प्रवेश नहीं करेगा,न ही सडक़ों पर चलेगा।
इसके बावजूद भी जनपद में धारा 144 का खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है। जिला मुख्यालय पर मुख्य मार्गों पर युवक सडक़ों पर खुले आम राइफल व बंदूक लहरा रहे है। इसके अलावा पैट्रोल पंपों में वहां तैनात कर्मचारियों द्वारा खुलेआम लोगों को एक व दो लीटर की बोतल में पैट्रोल व डीजल विक्रय किया जा रहा है। बाजारों में गंडासा,चाकू,लाठी भी बेचे जा रहे है।
बुलन्दशहर रोड स्थित एक पैट्रोल कर्मचारी से बोतल में पैट्रोल देने में बारे में जानकारी,तो उसने बताया कि बोतल में पैट्रोल देने पर कोई पाबंदी नहीं लगाई गयी है। पाबंदी लगाने के लिए प्रशासन को पैट्रोल पंप एसोसिएशन को लिखित में सूचना देनी चाहिए। इतना होने के बावजूद भी पुलिस प्रशासनिक अधिकारी मूक दर्शक बने बैठे है। ऐसा लगता है,कि अधिकारी किसी घटना के होने का इंतजार कर रहे है।
इस सम्बंध में जिलाधिकारी अनिल ढींगड़ा का कहना है,कि धारा 144 की अवहेलना करने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई अमल में लाई जायेगी। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया,आदेशों का सख्ती से पालन कराया जायें।