Home » यू पी/उत्तराखण्ड » पीलीभीत:- आठ लोगो को मौत के घाट उतारने वाला आदमखोर बाघ हुआ कैमरे में कैद, ऑपरेशन बाघ हुआ असफल_विकास सक्सेना की विशेष खोजी खबर

पीलीभीत:- आठ लोगो को मौत के घाट उतारने वाला आदमखोर बाघ हुआ कैमरे में कैद, ऑपरेशन बाघ हुआ असफल_विकास सक्सेना की विशेष खोजी खबर

पीलीभीत:- आज हम आपको उस आदमखोर से रूबरू कराएँगे जो आठ इंसानो को मौत के घाट उतार चुका है बात हो रही...

👤 Ajay7 March 2017 5:35 AM GMT
पीलीभीत:- आठ लोगो को मौत के घाट उतारने वाला आदमखोर बाघ हुआ कैमरे में कैद, ऑपरेशन बाघ हुआ असफल_विकास सक्सेना की विशेष खोजी खबर
Share Post



पीलीभीत:- आज हम आपको उस आदमखोर से रूबरू कराएँगे जो आठ इंसानो को मौत के घाट उतार चुका है बात हो रही है उस टाईगर की जो पिछले चार महीने से जनपद पीलीभीत में आतंक मचा रहा है साथ ही साथ वन विभाग का झूठ भी दिखायेगे। गांव के गन्ने में चहलकदमी करता आदमखोर बाघ जिसे सैकडो की संख्या में वन विभाग के कर्मचारी कल से तलाश रहे है लेकिन मीडिया के कैमरे ने इसे पकड लिया है।दरअसल कल टाईगर ने गांव रम्पुरा में एक बीएससी के छात्र को मार दिया और कल से इसी गांव में मौजूद है और कल से ही वन विभाग की टीम कई पिंजरो,कई शूटरों व हाथियो के साथ टाईगर को ढूंढ रही है ताकि उसे पकडा जाये लेकिन वह इन्हे मिल नही रहा है या फिर यह कहे कि टाईगर को देखते ही वन विभाग कमजोर पड जाता है।
जबकि टाईगर ने आज ही एक नील गाय व एक कुत्ते पर भी हमला कर मौत के घाट उतार दिया है। और मीडिया के कैमरे में भी साफ साफ गांव में टाईगर को टहलते हुए देखा जा सकता है लेकिन वन विभाग की टीम निशाना तो लगाती है लेकिन कहा चूक हो रही है यह पता नही चल पा रहा है और आदमखोर सैकडो लोगो के सामने टहल रहा है।
और विभाग का मुँह चिढ़ा रहा है फिलहाल आज दिन भर विभाग टाईगर को तलाशने में जुटा रहा है विभाग का कहना है कि तीन टीमे बाघ को पकडने के लिए लगायी गयी है।
क्योकि आज रात हो गयी तो वन विभाग के कर्मचारी एक बार फिर कल सुबह से बाघ को पकड़ने की कवायद मे जुटेगे।
अब देखना है कि वन विभाग का यह पूरा लाव लश्कर कब तक इस आदमखोर को पकड पायेगा। क्योकि पूरे जनपद में इसे लेकर दहशत है वही ग्रामीण क्षेत्रो में लोग खेतो पर नही जा पा रहे है वजह चार माह में आठ लोग टाईगर द्वारा मारे जा चुके है।