Home » यू पी/उत्तराखण्ड » मथुरा:- धोखेबाज दुल्हनिया - लाखो की नकदी और जेवरात लेकर फरार_धनीराम खण्डेलवाल की रिपोर्ट

मथुरा:- धोखेबाज दुल्हनिया - लाखो की नकदी और जेवरात लेकर फरार_धनीराम खण्डेलवाल की रिपोर्ट

मथुरा:-मथुरा में राजस्थान से आई बारात के समाने उस समय मुसीबत खड़ी हो गई जब वरमाला के बाद लाखो की...

👤 Ajay2017-03-02 13:11:47.0
मथुरा:- धोखेबाज दुल्हनिया - लाखो की नकदी और जेवरात लेकर फरार_धनीराम खण्डेलवाल की रिपोर्ट
Share Post


मथुरा:-मथुरा में राजस्थान से आई बारात के समाने उस समय मुसीबत खड़ी हो गई जब वरमाला के बाद लाखो की नकदी, आभूषण और कपड़े लेकर बिचैलिया दो दुल्हनों सहित उनके परिजनों को लेकर फरार हो गया। पहले तो दूल्हे के परिजनों ने बिचैलिया और लड़की पक्ष के लोगों को ढॅूढने की कोशिश की लेकिन जब कुछ पता नहीं चला तो पुलिस को घटना से अवगत कराया। देर रात से बारात सड़क किनारे खड़े होकर पुलिस से मदद की गुहार लगाती रही जिसके वाद पुलिस
ने मामले की रिपोर्ट दर्ज कर धोखेबाज दुल्हन और उसके परिजनों की तलाश में जुट गई है ।
फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।
जानकारी के मुताबिक राजस्थान के सीकर जिले के गांव विरजापुरा निवासी मांगूराम के बेटे राजू और गोपाल का सम्बन्ध धर्मपाल नाम के एक बिचैलिए ने कराया था। धर्मपाल मूलरुप से राजस्थान का ही रहने वाला है लेकिन वर्तमान में गोवर्धन में रहता बताया गया है। धर्मपाल ने दोनों राजू और गोपाल की शादी मथुरा जनपद के गांव मनी का बांस निवासी होरीलाल की बेटी अंजू और पूजा से तय कराई थी। 22 फरवरी को बिचैलिया लड़की पक्ष के 11 लोगों के साथ राजस्थान के बिरजापुरा पहुॅचा और विधिवत तरीके से लग्न की रस्म हुई इसके बाद 28 फरवरी को शादी तय हुई। 28 फरवरी की शाम मांगूराम अपने दोनों बेटों की बारात में करीब 60-70 लोगों को लेकर वृंदावन आया और कार्यक्रम-स्थल पर पहुॅच गया। यहां सब कुछ ठीक चल रहा था कि वरमाला के समय जब दोनों युवतियों को बुलाया गया तो देखा कि जिन लड़कियों का रिश्ता तय कराया था ये वो नहीं थी-इस पर दोनों पक्षों में थोड़ी कहासुनी भी हो गई। बताया गया है कि कार्यक्रम चल रहा था कि रात्रि करीब साढ़े नौ बजे बिचैलिया दोनों दुल्हनों और उनके परिवारिजनों को लेकर विवाह स्थल से चंपत हो गया। काफी देर तक जब वधू पक्ष की ओर से कोई दिखाई नहीं दिया तो वर पक्ष को शक हुआ और देखा तो उनके होश उड़ गए। बिचैलिया और लड़की पक्ष के लोग मैरिज होम से गायब थे साथ ही नकदी, कपड़े और आभूषण भी नहीं थे। काफी खोजबीन करने पर भी जब कोई सफलता नहीं मिली तो दूल्हे के परिजनों ने पुलिस को घटना की सूचना दी।-अर्जुन ने बताया कि बिचैलिया भरतपुर में किसी रिश्तेदार के मार्फत लड़के के पिता के संपर्क में आया था और उसने इसके एवज में पैसा भी लिया। अर्जुन ने बताया कि बिचैलिया और लड़की पक्ष के लोग करीब साढ़े छह लाख रुपए और आभूषण के साथ ही कपड़ों तक को ले गए। पुलिस ने मामले की जानकारी जुटाना षुरु कर दिया। उधर रात्रि की घटना के बाद से दूल्हे सहित बारात वृंदावन में पागल बाबा मंदिर के निकट तिराहे पर सुबह 10 बजे तक डटी रही। दूल्हे के फुफेरे भाई अर्जुन ने जानकारी देते हुए बताया कि उनके साथ धोखाधड़ी हुई है। उन्हौने इस मामले को लेकर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करा-दी है जिसपर वृन्दाबन पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए जाँच सुरु कर दी है ।