Home » यू पी/उत्तराखण्ड » संतकबीरनगर:- हमारा लोकतंत्र अपरिपक्व, परिवक्व राष्ट्र निर्माण के भागी बन अपने मत का प्रयोग जरूर करें_अजय श्रीवास्तव (एडिटर इन चीफ-सत्यमेव जयते लाइव)

संतकबीरनगर:- हमारा लोकतंत्र अपरिपक्व, परिवक्व राष्ट्र निर्माण के भागी बन अपने मत का प्रयोग जरूर करें_अजय श्रीवास्तव (एडिटर इन चीफ-सत्यमेव जयते लाइव)

आवो चलो बूथ चलो - पांचवें चरण के चुनाव में आइये हम सब बढ़चढ़कर मतदान करें हमारे देश के शासन का आधार...

👤 Ajay2017-02-26 15:23:38.0
संतकबीरनगर:-  हमारा लोकतंत्र अपरिपक्व, परिवक्व राष्ट्र निर्माण के भागी बन अपने मत का प्रयोग जरूर करें_अजय श्रीवास्तव (एडिटर इन चीफ-सत्यमेव जयते लाइव)
Share Post

आवो चलो बूथ चलो - पांचवें चरण के चुनाव में आइये हम सब बढ़चढ़कर मतदान करें
हमारे देश के शासन का आधार लोकतंत्र है और लोकतंत्र का सीधा अर्थ जनता द्वारा निर्मित तंत्र से है। जनता अपने इस तंत्र का निर्माण वोट नामक अपने पवित्र हथियार से करती है। वोट निर्णय से ही हम देश की शासन व्यवस्था की गुणात्मकता बनाये रख सकते है। एक गुणवत्ता पूर्ण सरकार अपनी जनता के चतुर्मुखी विकास करने क साथ-2 अन्तर्राष्ट्रीय बिरादरी मे भी देश को गौरव पूर्ण स्थान करती है।
अडसठ बसंत देख चुका हमारा लोकतंत्र अभी भी परिपक्व अवस्था से अभी दूर है जिसका मूल कारण मतदान प्रतिशत का औसत होना है। हमारी जनता अभी भी अपने वोट की ताकत पहचान नही पायी है और तमाम व्यक्तियों बाते करते सुना जा सकता है कि वोट देने से हमको क्या मिलेगा,लेकिन ऐसे व्यक्ति स्वयं को ही देश की नीति निर्धारण से अपने को वंचित कर लेते हैं।
हे देश के जनता जनार्दन ! देश अपना है और लोकतंत्र भी अपना है। अत: इसको संमृद्धि के ओर ले जाने का भारत के प्रत्येक नागरिक पर नैतिक के साथ-2 राजनैतिक और आर्थिक दायित्व भी है। हमारी सरकार कितनी गुणवत्ता पूर्ण हो, यह आप के वोट पर ही निर्भर करेगा।
याद रखे वोट एक अधिकार है और अपने अधिकार को किसी और को न सौपें।
Attachments area