Home » यू पी/उत्तराखण्ड » संतकबीरनगर:- बैंक आफ बडौदा ने बचाई क्षेत्र के लोगों की लाज_सत्यमेव जयते लाइव न्यूज़ टीम ।

संतकबीरनगर:- बैंक आफ बडौदा ने बचाई क्षेत्र के लोगों की लाज_सत्यमेव जयते लाइव न्यूज़ टीम ।

संतकबीरनगर:- बैंक ऑफ़ बड़ौदा की सांथा ब्लाक में मात्र एक शाखा मेहदूपार मे है। नोटबन्दी की मार झेल रहे...

👤 Ajay2017-02-13 06:17:01.0
संतकबीरनगर:- बैंक आफ बडौदा ने बचाई क्षेत्र के लोगों की लाज_सत्यमेव जयते लाइव न्यूज़ टीम ।
Share Post

संतकबीरनगर:- बैंक ऑफ़ बड़ौदा की सांथा ब्लाक में मात्र एक शाखा मेहदूपार मे है। नोटबन्दी की मार झेल रहे लोगों को शादी में जरूरत के अनुसार पैसा देकर बचाई लोगो की इज्जत। हिन्दुस्तान संवाद धर्मसिहवा। सांथा ब्लाक क्षेत्र में एक मात्र बैंक आफ बडौदा की शाखा ने मेहदूपार ने नोट बन्दी की मार झेल रहे लोगों के घरों में पडी शादी में आवश्यकता अनुसार पैसे देकर लोगों की इज्जत बचाई। लोगों ने बैंक आफ बडौदा की शाखा और उनके पूरे स्टाफ को बहुत धन्यवाद दिया। क्षेत्र के लोगों ने बैंक के सर्विस से खुश होकर ब्रांच मैनेजर और उनके पूरे स्टाफ को बहुत धन्यवाद दिया। क्षेत्र के लोगों ने बताया कि हम लोगों के घर में शादी में अगर बैंक आफ बडौदा पैसा न दिया होता तो हम लोगों की इज्जत चली जाती। धर्मसिहवा निवासी घनश्याम वर्मा ने बताया कि मेरे घर पर भागवत कथा और लडके की शादी नवम्बर महीने में थी। उस समय पूरा देश नोट बन्दी की मार झेल रहा था। हमारे यहां पूर्वांचल बैंक में पूरे सप्ताह पैसा नहीं आता था।मेहदूपार बैक के अलावा और कही खाता नहीं था। मेहदूपार बैंक आफ बडौदा ने आवश्यकता अनुसार पैसा देकर मेरी इज्जत बचाई। बरगदवा निवासी अब्दुल रऊफ ने बताया कि नवम्बर में ही मेरे लडकी की शादी थी। बैंक आफ बडौदा ने आवश्यकता अनुसार पैसा देकर मेरी लाज बचाई। सिद्धार्थ नगर जनपद के पेडारी निवासी रमेश कुमार ने कहा कि उनके बहन की शादी दिसम्बर महीने में थी। मै स्टेट बैंक सकारपार से पैसा नहीं पाया और वहां से सारा पैसा मेहदूपार बैंक आफ बडौदा के खाते में ट्रांसफर कराकर पैसा निकाला। क्षेत्र के दर्जनों लोगों ने बैंक आफ बडौदा की शाखा मेहदूपार के कार्य प्रणाली को काफी सराहा। और बैंक के पूरे स्टाफ को बहुत बहुत धन्यवाद दिया। ब्रांच हेड अमित भटनागर ने बताया कि मेरे पास ऊपर से जितना पैसा आता था उतना मै लोगों में उनके आवश्यकता अनुसार बांट देता था। हमारे यहां एटीएम से भी बराबर पैसा निकलता था। मैं अपने पूरे स्टाफ के साथ यहां के खाताधारकों तथा क्षेत्रीय लोगो को बहुत बहुत धन्यवाद देता हूं जो कि इतने बड़े संकट नोटबन्दी में मेरा साथ दिया।