Home » समाज सेवक » संतकबीरनगर में संत रामपाल के अनुयायियों ने पेश की मानवता की मिशाल

संतकबीरनगर में संत रामपाल के अनुयायियों ने पेश की मानवता की मिशाल

मगहर।संत कबीर की निर्वाण स्थली मगहर में सन्त रामपाल के अनुवाईओं ने रविवार को विशाल सत्संग का आयोजन...

संतकबीरनगर में संत रामपाल के अनुयायियों ने पेश की मानवता की मिशाल
Share Post


मगहर।संत कबीर की निर्वाण स्थली मगहर में सन्त रामपाल के अनुवाईओं ने रविवार को विशाल सत्संग का आयोजन किया।इस सत्संग के आयोजक प्रदेश कोवर्डिनेटर संजीव दास रहे।नशा मुक्ति सत्संग में पूरे प्रदेश से भारी संख्या में श्रद्धालुजन का सैलाब उमड़ पड़ा।कार्यक्रम में आये संत रामपाल के अनुवाईयों ने नाम दीक्षा, प्रवचन, सत्संग के साथ ही 200 से अधिक लोगों रक्तदान किया। रैली में आये अनुवाईयों टोली में नशे का लेकर लोगों का जागरूक किया।

विश्व प्रसिद्ध महान संत कबीर की महापरिनिर्वाण स्थली है।जहां पर संजीवदास के नेतृत्व में संत रामपाल के अनुवाईयों के द्वारा नशा मुक्ति का विशाल सत्संग का आयोजन हुआ। जिसमें प्रदेश के कोने कोने से हजारों की संख्या में अनुवाई पहुंचे। जिनकी सेवा में सेवादार मानोयोग से लगे रहे। सत्संग के उद्देश्य के बारे में पूंछने पर संजीवदास ने बताया कि रामपाल जी महाराज ने कबीर के विचारों को जन जन तक पहुंचाने का कार्य किया है।कबीर जिस तरह से ऊंच नीच,जाति पाति के शक्त विरोधी थे।उन्ही बताये मार्ग पर चल समाज को सही दिशा दिखाने का प्रयास किया है।उन्होंने आगे कहा कि आज समाज में नशाखोरी जायेदे बढ़ चुकी है।जिसके कारण समाज में तरह तरह की बुराइयों ने जन्म लिया है।इसको समाप्त कर के लिए रामपाल महाराज जी बीड़ा उठाया है।जिस के क्रम में जगह जगह नशामुक्ति सत्संग आयोजन कर लोगों को जागरूक करने का प्रयास किया जा रहा है।उन्होंने ने बताया कि आगामी 14 अप्रैल को मथुरा में नशामुक्ति का इससे बड़ा सत्संग का आयोजन किया जाएगा।इसी क्रम कार्यक्रम के प्रभारी गोंडा मण्डल के कोवर्डिनेटर अनिलदास ने बताया कि मानव जीवन बहु मूल्य इसे परमात्मा की सेवा लगा कर मानव जीवन से मुक्ति मिल सकती है।कभी कभी रक्त के अभाव में व्यक्ति की जीवन लीला समाप्त हो जाती है।जिसके लिए रक्तदान कर महान पूण्य के भागी बन सके।इस लिए विशाल सत्संग के दौरान मगहर में 200 से अधिक सैकङो लोगों ने रक्तदान कर किसी के जीवन को बचाने में सहयोगी बन गए। इसके अलावा अनुवाईयों ने नाम दीक्षा, प्रवचन, सत्संग में हिस्सा लिया। रैली में पहुंचे जगह जगह पोस्टरों के माध्यम से सेवादार लोगों को नशा मुक्ति के प्रति जागरूक किया। रैली/ सत्सग में पहुंचे सदर एसडीएम के प्रतिनिधि नायब तहसीलदार को नशामुक्ति को लेकर सेवादार अंगद दास के नेतृत्व में रामपाल के अनुवाईयों ने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन सौंपा गया।विशाल सत्संग में हजारों की संख्या में पूरे प्रदेश से रामपाल के अनुवाईओं को नियंत्रित करने के लिए स्वयं सेवादार अपने कर्तव्य का निर्वाह करते हुए शान्ति पूर्ण ढंग से कार्यक्रम को सम्पन्न कराने में डटे रहे।सत्संग के पश्चात कबीर के समाधि एवं मजार का दर्शन भी किया।इस दौरान अमिताभ दास,राजमणि दास,अशोक दास,विश्वास दास,दीनानाथ दास, कुलदीप दास,बुद्धिराम दास,सालिकराम दास आदि लोगों कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।