Home » शख्सियत » चन्दौली :इतिहास के पन्नों में पूर्णतः दफन हुआ मुगलसराय, आज से मुगलसराय शहर को पंडित दीनदयाल नगर और मुगलसराय जंक्शन को पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के नाम से जाना जाएगा_विनय तिवारी की रिपोर्ट

चन्दौली :इतिहास के पन्नों में पूर्णतः दफन हुआ मुगलसराय, आज से मुगलसराय शहर को पंडित दीनदयाल नगर और मुगलसराय जंक्शन को पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के नाम से जाना जाएगा_विनय तिवारी की रिपोर्ट

खबर चंदौली जनपद के पंडित दीनदयाल उपाध्याय...

चन्दौली :इतिहास के पन्नों में पूर्णतः दफन हुआ मुगलसराय, आज से मुगलसराय शहर को पंडित दीनदयाल नगर और मुगलसराय जंक्शन को पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के नाम से जाना जाएगा_विनय तिवारी की रिपोर्ट
Share Post


खबर चंदौली जनपद के पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर के पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन से है जहां चन्दौली प्रदेश के मुगलसराय जंक्शन का नाम आज से बदलकर पं0 दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन हो गया है ।राष्ट्रीय अध्यक्ष मां0 अमित शाह एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष व सांसद चन्दौली महेन्द्र नाथ पाण्डेय द्वारा बटन दबाकर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया । इस अवसर पर केन्द्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा द्वारा पं0 दीनदयालय उपाध्याय के संर्घषमयी जीवन को लोगों में बताते हुये कहा कि पं0 दीनदयाल उपाध्याय ने राजनीतिक दर्शन में एकात्म

मानवतावाद की कल्पना की उन्होनें कहा कि यह दर्शन शरीर, मन, बुद्धि औरप्रत्येक इन्सान आत्मा के साथ एकीकृत होने की वकालत करता है। उन्होनें भारत के लिए विकेंन्द्रीकृत राजनीति और आत्मनिर्भर अर्थव्यवस्था को गाॅव के आधार के रूप में देखा। कहा कि दलितों के मसीहा थे इन्होनें गरीबी से जीवनयापन करने वाले हर व्यक्ति का आगे लाने का प्रयास किया । उन्होंने कहा कि सरकार के द्वारा प्रयास किया जा रहा है कि अन्तिम पायदान पर बैठे व्यक्तियों को सरकार द्वारा

चलायी जा रही लोक कल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित किया जा सके , इसका भरपूर फायदा गरीब लोगों को मिले।

श्री शाह आज बाकले ग्राउन्ड में जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे।उन्होंने कहा कि मुगलसराय जंक्शन का माननीय नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में प्रदेश नये विकास के आयाम गढ़ रहा है जिससे विपक्षी पार्टीयों के बीच खलबली मची हुयी है। इस दौरान उन्होनें बताया कि एशिया का सबसे बड़ा मार्शलिंग यार्ड मुगलसराय है तथा यह भारत का एक व्यस्ततम रेलवे जंक्शन है। उन्होंने कहा कि मुगलसराय जंक्शन का नाम वर्तमान सरकार द्वारा पं0 दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन रखा जा रहा है, जिसका शुभारम्भ आज किया गया है।उन्होंने कहा कि नयी ट्रेन नं0 14261/62 पं0 दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन से लखनऊ के बीच

वर्तमान में वाया रायबरेली एकात्मता एक्सप्रेस का परिचालन किया जा रहा है। इस ट्रेन के अतिरिक्त आज एक नयी ट्रेन 14261/62 पं0दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन-लखनऊ एकात्मता एक्सप्रेस (सप्ताह में दो दिन) (वाया सुल्तानपुर)के परिचालन का शुभारम्भ किया गया। पहली बार पूर्णतः महिला क्रू मेम्बर द्वारा परिचालित मालगाड़ी के परिचालन का हरी झण्डी दिखाकर शुभारम्भ किया गया। इस मालगाड़ी के चालक, सहायक चालक, गार्ड, स्टेशन मास्टर रख रखाव के लिए महिला सुपरवाइजर, सिग्नल, इलेक्ट्रीकल, स्टेशन स्टाफ सभी महिलाएं रखी

जा रही है। पं दीन दयाल उपाध्याय स्मृति स्थल पड़ाव चैराहा का शिलान्यास,

पं0दीन दयाल उपाध्याय जी के जन्म शताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में केन्द्र

एवं प्रदेश सरकार द्वारा पड़ाव चैराहे के पास पं0दीन दयाल उपाध्याय स्मृतिस्थल के निर्माण का निर्णय लिया गया, परियोजना की कुल लागत 74 करोड़ रू0 है। प्रथम चरण हेतु केन्द्र सरकार द्वारा 39.75 करोड़ रू0 स्वीकृत किया जा चुका है।इस कार्य हेतु वाराणसी विकास प्राधिकरण कार्य दायी संस्था को नामित किया गया है । उन्होंने कहा कि उपाध्याय जी के जीवन वृत्त पर आधारित संग्रहालय तथा व्याख्यान केन्द्र का निर्माण किया जायेगा इसके साथ ही स्मारक स्थल से

200 मीटर तक समस्त पहुंच मार्ग का सुधार कार्य भी सुनिश्चित किया जायेगा।

उत्तर प्रदेश के मा0 मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने मुगलसराय जं0 का पं0दीन दयाल उपाध्याय जं0 के नाम परिवर्तन के अवसर पर जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि रेल सेवाओं का सुधार एवं विस्तार किया जायेगा।उन्होंने कहा कि पं0 दीन दयाल उपाध्याय जं0 यार्ड को ''स्मार्ट यार्ड'' में उन्नयन, रूट रिले इन्टलाकिंग, प्रणाली का तथा स्टेशन का भी विकास किया जायेगा। जंक्शन पर कुशल वैगन जाॅच हेतु रू0 32 करोड़ से स्मार्ट यार्ड का विकास किया जायेगा उन्होनें बताया कि पं0 दीन दयाल जंक्शन सिग्नल प्रणाली के संचालन हेतु रूट रिले इन्टरलाकिंग प्रणाली का रू0 190 करोड़ की लागत से

कार्य उन्नयन किया जायेगा तथा 41 करोड़ रू0 की लागत से पं0दीन दयाल जंक्शनका सुन्दरीकरण किया जा रहा है जिसके तहत दो नये प्लेटफार्म 7, 8प्लेटफार्म शेड, अतिरिक्त रिटारिंग रूम, प्रतिक्षालय तथा प्लेटफार्म का विस्तार तथा नया बुकिंग कार्यालय, एस्केलेटर, लिफ्ट, नया फुट ओवर ब्रिज, दूसरा प्रवेश द्वार एवं टेन डिस्प्ले बोर्ड इत्यादि कार्य सुनिश्चित किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि पं0दीन दयाल जी का जो सपना था कि समाज के अन्तिम पायदान पर खडे़ व्यक्ति को योजनाओं का लाभ शत प्रतिशत मिले, हर गरीब के पास अपना घर हो, शौचालय (इज्जत घर) हो वह सपना सच साबित होगा।