Home » नेता जी के बोल बचन » सुल्तानपुर- मेनका गांधी की फिस्ली ज़ुबान: पति संजय गांधी को बताया इंदिरा गांधी का इकलौता बेटा, फिर आगे कहा कुछ ऐसा_रिपोर्ट-अज़हर अब्बास

सुल्तानपुर- मेनका गांधी की फिस्ली ज़ुबान: पति संजय गांधी को बताया इंदिरा गांधी का इकलौता बेटा, फिर आगे कहा कुछ ऐसा_रिपोर्ट-अज़हर अब्बास

सुल्तानपुर. केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी फिलवक्त पीलीभीत से सांसद है। अब पार्टी ने उन्हें सुल्तानपुर...

सुल्तानपुर- मेनका गांधी की फिस्ली ज़ुबान: पति संजय गांधी को बताया इंदिरा गांधी का इकलौता बेटा, फिर आगे कहा कुछ ऐसा_रिपोर्ट-अज़हर अब्बास
Share Post


सुल्तानपुर. केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी फिलवक्त पीलीभीत से सांसद है। अब पार्टी ने उन्हें सुल्तानपुर सीट से लोकसभा उम्मीदवार बनाया है। लेकिन सात बार की सांसद मेनका गांधी उम्र के उस पड़ाव पर पहुंच रही हैं कि उनकी ज़ुबान फिसलने लगी है। सोमवार को सुल्तानपुर के जयसिंहपुर विधानसभा क्षेत्र में कैम्पेन के दौरान उन्होंने अपने पति संजय गांधी को पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी का इकलौता बेटा बताया। हालांकि फौरन ही उन्हें समझ आ गई के उनसे चूक हुई है और उन्होंने फौरन सारी कहा। लेकिन फिर कहा कि एक बेटे थे।

*मेरे पति ने सांसद बनने के लिए पूरे देश में सुल्तानपुर को चुना*

सोमवार को अपने कैम्पेन के दसवें दिन बीजेपी उम्मीदवार मेनका गांधी जयसिंहपुर विधानसभा क्षेत्र के सेवतरी गांव में थी। यहां उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं पहले आपको अपने बारे में बता दूं। मेरा नाम मेनका संजय गांधी है। मैं आई थी जब मैं एक नई नवेली दुल्हन थी। अपने पति के साथ संजय गांधी जी, इंदिरा जी के इकलौते बेटे, सारी इकलौते बेटे नहीं। एक बेटे थे उन्होंने जब चुना सांसद बनने के लिए तो पूरे देश में सुल्तानपुर को चुना।

*सुल्तानपुर मे जोड़े भावनात्मक रिश्ते*

सुल्तानपुर से भावनात्मक रिश्ता जोड़ते हुए मेनका ने कहा कि मै मां हूं आप सबकी, चाहे आप की उम्र कुछ भी हो, आपका धर्म कुछ भी हो। कोई मेनका गांधी की जिंदगी बदल नहीं सकता। मेरी जिंदगी सेवा मे ही डूबी है, और सेवा मे ही डूबी रहेगी। मै रोज के रोज लोगों के लिए काम करती हूं। मै मंत्री हूं संतरी हूं ये मुझे परवाह नहीं। मेरी ताकत मेनका गांधी की ताकत है। आप मेरी जिंदगी न बदले आप बदले अपनी जिंदगी।