Home » राष्ट्रीय/अंतराष्ट्रीय » मथुरा:- नासा में मथुरा का लाल-बुलन्द हौंसलो ने रचा लम्बा उड़ान_धनीराम खण्डेलवाल की विशेष रिपोर्ट

मथुरा:- नासा में मथुरा का लाल-बुलन्द हौंसलो ने रचा लम्बा उड़ान_धनीराम खण्डेलवाल की विशेष रिपोर्ट

मथुरा:- : अगर आपके इरादे बुलंद हों और अपनी काबिलियत पर विश्वास हो तो असंभव भी संभव बन जाता है। ऐसी...

👤 Ajay2017-03-02 13:19:16.0
मथुरा:- नासा में मथुरा का लाल-बुलन्द हौंसलो ने रचा लम्बा उड़ान_धनीराम खण्डेलवाल की विशेष रिपोर्ट
Share Post


मथुरा:- : अगर आपके इरादे बुलंद हों और अपनी काबिलियत पर विश्वास हो तो असंभव भी संभव बन जाता है। ऐसी बातों पर मथुरा के शशिकांत भारद्वाज जैसे लोगों की बदौलत विश्वास बढ़ता है। जी हां, शशिकांत भारद्वाज ने असुविधा और हालात को मात देते हुए कुछ ऐसा कर दिखाया है जिससे न सिर्फ उसका परिवार बल्कि देश गर्व महसूस कर रहा है।
मथुरा के बालाजीपुरम के रहने वाले शशिकांत भारद्वाज ने चांद पर चलने वाली मून बग्गी का निर्माण किया है। मून बग्गी के निर्माण के चलते उनका चयन अमेरिका के अल्बामा स्थित मार्शल स्पेस फ्लाइट सेंटर और रॉकेट स्पेस सेंटर हेबीटेट-2 में होने वाली 'नासा ह्यूमन एक्सप्लोरेशन रोवर चैलेन्ज प्रतियोगिता के लिये हुआ है। यह प्रतियोगिता 31 मार्च से शुरू होकर दो अप्रैल को समाप्त होगी। शशिकांत भारद्वाज की टीम में कुल छह सदस्य शामिल हैं।

शशिकांत भारद्वाज के पिता बालाजीपुरम में आटा चक्की चलाते हैं। पिता जयप्रकाश भारद्वाज बताते हैं कि पुत्र शशिकांत शुरूआती पड़ाई के दिनों से ही काफी तेज रहा है। वह हमेशा अपनी पढ़ाई और करियर के बारे में संजीदा रहा। अब जहां शशिकांत की इस सफलता से उसके परिवार में खुशी की लहर है वहीं सुनहरे भविष्य को लेकर एक नई उम्मीद जगी है।