Home » स्वास्थ्य समस्या/निदान » 1 लाख 20 हजार 675 परिवारों को मिला जन आरोग्य योजना का लाभ: पल्टूराम_रिपोर्ट-रवि गुप्ता

1 लाख 20 हजार 675 परिवारों को मिला जन आरोग्य योजना का लाभ: पल्टूराम_रिपोर्ट-रवि गुप्ता

-सदर विधायक ने किया आयुष्मान भारत जनजागरूकता कार्यक्रम का शुभारम्भ- 1400 लाभार्थी जिले के अस्पताल...

1 लाख 20 हजार 675 परिवारों को मिला जन आरोग्य योजना का लाभ: पल्टूराम_रिपोर्ट-रवि गुप्ता
Share Post


-सदर विधायक ने किया आयुष्मान भारत जनजागरूकता कार्यक्रम का शुभारम्भ

- 1400 लाभार्थी जिले के अस्पताल से लेकर मेडिकल काॅलेज तक करा चुके इलाज

बलरामपुर 23 सितम्बर। आयुष्मान भारत, प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के एक वर्ष पूरे होने पर जिले में जन जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। संयुक्त जिला चिकित्सालय परिसर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि सदर विधायक ने नगर में जनजागरूकता के लिए बैनर व लाउडस्पीकर लगे ई रिक्शा को भी रवाना किया।

सोमवार को संयुक्त जिला चिकित्सालय में आयोजित जनजागरूकता कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि सदर विधायक पल्टूराम ने कहा कि आयुष्मान भारत के तहत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना व मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान योजना पीएम नरेन्द्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ की महात्वाकांक्षी योजना है। इस योजना के तहत सरकार जिले के 1 लाख 20 हजार 675 पात्र परिवारों को पांच लाख का निःशुल्क बीमा दे रही है। पात्र व्यक्ति किसी भी संबंध अस्पताल में जाकर अधिकतर बीमारियों का इलाज करा सकता है। डिप्टी सीएमओ डा. ए.के. सिंघल ने कहा कि गोल्डन कार्ड के लाभार्थियों को जिले में संबंध 21 अस्पतालों में निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधाएं दी जा रही हैं। इसके साथ ही यदि मरीज की हालत गंभीर निकलती है तो उसे मेडिकल कॉलेज तक के लिए रिफर करने की भी सुविधा दी जा रही है। उन्होंने बताया कि जो परिवार आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत छूट गए थे उन्हें मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान योजना के तहत चिन्न्हित कर ऐसे 5,067 लोगों को कार्ड वितरित किये जा रहे है जिससे गरीब परिवार अपने स्वास्थ्य का अधिक ध्यान कर सकें और सरकार द्वारा दिए जा रहे मुफ्त स्वास्थ्य बीमा का लाभ उठा सकें। कार्यक्रम के दौरान सीएमएस डा. एन.कव. बाजपेई, डा. गिरधर चैहान, डा, सुनिल कुमार, बीजेपी नगर अध्यक्ष बृजेन्द्र तिवारी, जिला सूचना प्रबंधक विदेह पाण्डेय, जिला कार्यक्रम समन्वयक डा. आलोक चैधरी, जिला समन्वयक आईएसए अमरेश सिंह सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

गांव गांव लगाये जा रहे आयुष्मान योजना के कैम्प

-जिले की 801 ग्राम पंचायतों के सभी मजरों में 30 सितम्बर तक कैम्प लगाकर गोल्डन कार्ड बनाये जा रहे है। प्रत्येक दिन 18 मजरों में कैम्प लगाया जा रहा है। और इस कैम्प में अब तक 5 हजार 2 सौ गोल्डन कार्ड बनाये जा चुके हैं।

अभी तक 1400 लाभार्थियों का हो चुका है इलाज

-अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी और आयुष्मान भारत स्वास्थ्य बीमा योजना के नोडल डा. कमाल अशरफ ने बताया कि इस योजना से अभी तक 1400 मरीजों को एक करोड़ के इलाज का लाभ मिल चुका है। जनपद में संयुक्त जिला चिकित्सालय, जिला मेमोरियल अस्पताल, जिला महिला अस्पताल, 8 सीएचसी व 10 प्राइवेट अस्पताल को मिलकर कुल 21 अस्पताल इस योजना के अंतर्गत रजिस्टर है, जहां कार्ड धारक इलाज करा सकता है। उन्होंने बताया कि यदि लाभार्थी के पास उसका कार्ड होगा तो तुरंत इलाज शुरू हो सकता है। ऐसे में जरूरी है कि सभी पात्र लाभार्थी अपना कार्ड जरूर बनवाएं।

जिले में 1 लाख 20 हजार 675 लाभार्थियों का हुआ है चयन

-जिला कार्यक्रम समन्वयक डा. आलोक चैधरी ने बताया कि आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत जिले में 1 लाख 20 हजार 675 परिवारों का चयन किया गया है जिसमें से 1 लाख 15 हजार 608 प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तथा 5 हजार 67 मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के पात्र हैं। करीब 5 लाख लाभार्थियों को योजना का लाभ दिया जाना है जिसमें से अब तक 39 हजार 937 लाभार्थियों का गोल्डन कार्ड बनाया जा चुका है।

इस तरह जानें आप लाभार्थी हैं कि नहीं

-आयुष्मान भारत स्वास्थ्य बीमा योजना के जिला सूचना प्रबंधक विदेह पाण्डेय ने बताया कि यदि किसी के पास पत्र नही हैं तो वह 14555 हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके जानकारी ले सकता हैं। Mera.pmjay.gov.in वेबसाइट पर जाकर भी आप चेक कर सकते हैं। क्षेत्र की आशाओं को भी सूची उपलब्ध कराई गई है उनसे भी जानकारी ले सकते है कि आपका नाम है कि नहीं।