Home » स्वास्थ्य समस्या/निदान » संतकबीरनगर- सक्रिय टी0बी0 खोज अभियान का हुआ शुभारम्भ_रिपोर्ट-बिट्ठल दास

संतकबीरनगर- सक्रिय टी0बी0 खोज अभियान का हुआ शुभारम्भ_रिपोर्ट-बिट्ठल दास

संतकबीरनगर। केन्द्र सरकार के 2025 तक टी. बी. को जड़ से समाप्त करने के अभियान के तहत जिले में सक्रिय...

संतकबीरनगर- सक्रिय टी0बी0 खोज अभियान का हुआ शुभारम्भ_रिपोर्ट-बिट्ठल दास
Share Post



संतकबीरनगर। केन्द्र सरकार के 2025 तक टी. बी. को जड़ से समाप्त करने के अभियान के तहत जिले में सक्रिय टी. बी. खोज अभियान का शुभारंभ सोमवार को जिला क्षय रोग कार्यालय पर किया गया। इस दौरान कुल 80 टीमें आठ टीबी यूनिट क्षेत्र में रवाना की गई। आगामी 22 जून तक चलाए जा रहे इस अभियान के तहत कुल दो लाख व्यक्तियों से सम्पर्क करके उनमें से टी. बी. के मरीजों को चिन्हित करके उनको बेहतर इलाज प्रदान करने की व्यवस्था की गई है। हर टीबी यूनिट में कुल 10 टीमें रहेंगी तथा इन 10 टीमों की निगरानी दो सुपरवाइजर करेंगे। जिला क्षय रोग अधिकारी कार्यालय पर टीमों की रवानगी सुबह जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ एसडी ओझा व एसीएमओ वेक्टर वार्न डॉ वेदप्रकाश पाण्डेय ने हरी झण्डी दिखाकर की। जिला क्षय रोग नियन्त्रण अधिकारी डॉ एस. डी. ओझा ने बताया कि जिले में कुल 8 टीबी इकाई हैं। जिनमें हैसर, पौली, नाथनगर, खलीलाबाद, बघौली, सांथा, सेमरियांवा व मेंहदावल शामिल हैं। हर टीबी यूनिट में कुल 10 टीमें काम कर रही हैं। हर 10 टीम पर एक मेडिकल आफिसर, दो सुपरवाइजर तैनात किए गए हैं। साथ ही हर टीम में तीन सदस्य शामिल हैं। ये टीमें अपने ब्लाक के चिन्हित गांवों में जाकर टी. बी. से संक्रमित लोगों को खोजने का काम करेंगी। जो मरीज चिन्हित होंगे उनको दवा दी जाएगी। साथ ही साथ 500 रुपए प्रतिमाह पोषण भत्ता भी दिया जाएगा। हर केन्द्र पर दवाएं पहुंचा दी गई हैं। केन्द्र सरकार के निर्देश पर यह अभियान जनपद में चल रहा है। हर साल कुल 4 चरण चलाने हैं। इनमें से एक चरण में कुल जनसंख्या का 10 प्रतिशत हिस्सा कवर किया जा रहा है। यानी हर चरण में कुल 2 लाख लोगों को कवर किया जा रहा है। सभी टीमों को जिला क्षय रोग अस्पताल के साथ ही साथ विभिन्न केन्द्रों पर प्रशिक्षित किया गया है। अभियान के शुभारम्भ के अवसर पर जिला कार्यक्रम समन्वयक अमित आनन्द, एसटीएस बाबूराम चैधरी, ईश्वर चैधरी, एसएन शुक्ला, लालबहादुर यादव, एसटीएलएस राजेश कुमार, पीपीएम कविता पाठक समेत जिला क्षय रोग कार्यालय तथा सीएचसी खलीलाबाद के अन्य लोग उपस्थित रहे।