Home » गुड वर्क/बैड वर्क » मुरादाबाद:- जान की परवाह किये बगेर केमिकल रहित नाले के गंन्दे पानी में बच्ची की जान बचाने कूद गया पुलिस कर्मी _सागर रस्तोगी की रिपोर्ट

मुरादाबाद:- जान की परवाह किये बगेर केमिकल रहित नाले के गंन्दे पानी में बच्ची की जान बचाने कूद गया पुलिस कर्मी _सागर रस्तोगी की रिपोर्ट

मुरादाबाद//अमरोहा :- लोग कहते है कि पुलिस वालों के सीने में दिल नहीं होता । लेकिन अमरोहा जिले के...

👤 Ajay2017-03-01 13:37:48.0
मुरादाबाद:-  जान की परवाह  किये बगेर केमिकल रहित नाले के गंन्दे पानी में बच्ची की जान बचाने कूद गया पुलिस कर्मी _सागर रस्तोगी की रिपोर्ट
Share Post

मुरादाबाद//अमरोहा :- लोग कहते है कि पुलिस वालों के सीने में दिल नहीं होता । लेकिन अमरोहा जिले के डिडौली थाना के जिवाई चौकी इंचार्ज ने इस कहावत को उल्टा कर दिखाया। जिवाई चौकी क्षेत्र में सीएल गुप्ता फार्म के पास एक तेज रफ़्तार से आती सेंट्रो कार ने एक टेम्पू में इतनी तेज टक्कर मारी की टेम्पू चार पांच पलटे खाते हुए। एक नाले के पास जा रुका । राहगीरों की मद्दत से घायलो को निकाला इतने में चौकी इंचार्ज संजीव कुमार भी वहाँ आ गए। घायलो को तुरंत एम्बुलेंस से प्राइवेट अस्पताल में इलाज के लिए भेज दिया। मोके पर मौजूद किसी ने यह कह दिया के नाले में एक छह साल की बच्ची गिर गयी है। बस फिर क्या चौकी इंचार्ज संजीव ने तुरंत अपने कपडे उतारे और फेक्ट्री के केमिकल युक्त नाले में उतर गया। और पंद्रह मिनट तक बच्ची को नाले खोजता रहा। फिर किसी ने बताया कि बच्ची भी अस्पताल में है और अपने परिवार के साथ घर चली गयी है। तब जा कर संजीव कुमार नाले से बहार आये। मोके पर मौजूद सभी राहगीरों ने तालिया बजा कर संजीव का हौसला अफजाई की। केमिकल युक्त नाले का पानी इतना ख़राब है कि इसके अंदर जाने से चार्म रोग भी हो सकता है, इसकी बिना परवाह किये बिना संजीव कुमार ने मानवता का परिचय दिया और नाले में उतर गए। डिडौली थाना प्रभारी निरीक्षक विवेक शर्मा ने ने भी संजीव की इस दरिया दिली की तारीफ की।