Home » चुनावी चर्चा » संतकबीरनगर:- जीत हार की फ़िक्र नहीं, जनता की सेवा हमेशा करता रहूँगा- हाजी अकरम हुसैन_सत्यमेव जयते लाइव न्यूज़ टीम

संतकबीरनगर:- जीत हार की फ़िक्र नहीं, जनता की सेवा हमेशा करता रहूँगा- हाजी अकरम हुसैन_सत्यमेव जयते लाइव न्यूज़ टीम

संतकबीरनगर:- जीत हार की चिंता उन्हें होगी जिन्हें जनता के हितसे ज्यादे खुद के हित की चिंता हो, हम...

👤 Ajay2017-02-19 04:05:10.0
संतकबीरनगर:- जीत हार की फ़िक्र नहीं, जनता की सेवा हमेशा करता रहूँगा- हाजी अकरम हुसैन_सत्यमेव जयते लाइव न्यूज़ टीम
Share Post


संतकबीरनगर:- जीत हार की चिंता उन्हें होगी जिन्हें जनता के हितसे ज्यादे खुद के हित की चिंता हो, हम चुनाव मैदान में विधायक नहीं जनता का सेवक बनने के लिए आये है! ये कहना है मेंहदावल के रालोद प्रत्याशी हाजी अकरम हुसैन चौधरी का जिन्होंने एक ख़ास बातचीत के दौरान अपने संघर्षो के बारे में खुलासा करते हुए कहा कि बचपन से ही गरीबो और मज़लूमो की सेवा करते रहे है और आगे भी करते रहेंगे ! समाज सेवा का ललक अपने अंदर पाल बैठने के बाद उम्र के आखिरी पड़ाव तक उनकी ये कोशिश रहेगी कि लोगो की सेवा वो निरन्तर करते रहे! बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि
सन् 1998 में आई भयंकर बाढ में कछारवासियो को बडे पैमाने पर पन्नी वितरण करवाने के साथ साथ खाद्य सामाग्री का भी उन्होंने वितरण करवाया था ! अपने राजनैतिक महत्वाकांछा कि शुरुवात करते हुए हाजी अकरम हुसैन ने वर्ष 2001 में ब्लाक प्रमुखी के चुनाव में अपने मुंसी को लडाये थे जिनका सामना उस समय के दिग्गजो
पूर्व मंत्री चंद्रशेखर सिंह, अब्दुल कलाम, चंद्रशेखर पांडेय एक साथ मिलकर चुनाव अकरम के सामने लडे थे ! उस चुनाव में हाजी अकरम समर्थित प्रत्याशी चुनाव भले ही हार गया था किन्तु विरोधियो को नाको चने चबाने को विबस कर दिया था ! पंचायत चुनाव में अपने बेटे रिजवान अहमद को फरदहां ग्राम पंचायत से निर्विरोध प्रधान बनवाने के अलावा अपने भतीजे गयासुद्दीन चौधरी को जिला पंचायत सदस्य बनाने वाले हाजी अकरम हुसैन स्वयं इस बार विधान सभा चुनाव के मैदान में अगर कूदे है तो सिर्फ जनता के भरोसे जिन्हें अपनी जनसेवा के कार्य पर भरोसा है ! राष्ट्रीय लोक दल के प्रत्याशी हाजी अकरम हुसैन ने बतया कि उन्हें जनता का स्नेह और आशीर्वाद मिल रहा है जिसकी बदौलत वो चुनाव जीत रहे है !