Home » अपराध / आचार » सन्तकबीरनगर_एंटी करप्सन टीम के हत्थे चढ़ा दारोगा, महुली थाने में हुई पूंछताछ-राशिदा खान की रिपोर्ट

सन्तकबीरनगर_एंटी करप्सन टीम के हत्थे चढ़ा दारोगा, महुली थाने में हुई पूंछताछ-राशिदा खान की रिपोर्ट

गुरुवार को कोतवाली खलीलाबाद क्षेत्र के मेंहदावल बाइसपास से विवेचना में आरोप से बरी करने के नाम पर...

सन्तकबीरनगर_एंटी करप्सन टीम के हत्थे चढ़ा दारोगा, महुली थाने में हुई पूंछताछ-राशिदा खान की रिपोर्ट
Share Post


गुरुवार को कोतवाली खलीलाबाद क्षेत्र के मेंहदावल बाइसपास से विवेचना में आरोप से बरी करने के नाम पर बीस हजार घूस लेते समय कोतवाली में तैनात एसआइ को एंटी करप्शन टीम ने रंगे हाथ पकड़ लिया। दरोगा की गिरफ्तारी की सूचना मिलते ही कोतवाली परिसर में हड़कंप मच गई। आनन फानन में टीम ने दारोगा को महुली थाना में लाकर पूछताछ किया। बाद में मुकदमा दर्ज करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई।

एंटी करप्सन टीम गोरखपुर के प्रभारी राम धारी मिश्र ने बताया कि गोरखपुर जिले के बांसगांव थाना अंतर्गत ग्राम सरवसी निवासी शत्रुधन सिंह पुत्र राम प्रताप सिंह ने शिकायत किया कि कोतवाली खलीलाबाद में तैनात एसआइ श्रीकांत चौबे मुकदमा अपराध संख्या 1311/2018 धारा 279, 304 ए मामले में विवेचक है। इस दुर्घटना में एक महिला की मौत भी हो गई थी। उन्होंने बताया कि इस मामले में शत्रुधन सिंह से दरोगा श्रीकांत चौबे विवेचना से नाम हटाने के नाम पर पचास हजार रुपया की घूस मांग रहे थे। काफी मान मनौव्वल के बाद तीस हजार रुपया में सौदा तय हुआ। आरोपी दारोगा ने पहले बीस हजार रुपये तथा विवेचना में मुकदमे से नाम हट जाने के बाद शेष दस हजार रुपए देने की बात कही थी। उन्होंने बताया कि गुरुवार को जिलाधिकारी से आदेश लेकर दो सरकारी गवाह के साथ खलीलाबाद के मेंहदावल बाई पास के पास घेराबंदी की गई। इसी बीच दरोगा श्रीकांत चौबे पहुचे। शिकायतकर्ता शत्रुधन सिंह पूर्व में केमिकल से रंगी नोट को पॉकेट से निकालकर दो दो हजार की कुल बीस हजार घूस के रूप में एसआई श्रीकांत को दिया। इतने में टीम ने दरोगा को रंगे हाथ पकड़ लिया। उन्होंने बताया कि इस मौके पर एसआइ का हाथ धुलाया गया तो लाल रंग निकलने लगा। जिससे नोट की पहचान हो सकी। उन्होंने बताया कि महुली थाना में मुकदमा दर्ज करके उसे न्यायालय में पेश किया जायेगा। इस मौके पर टीम के सदस्य निरीक्षक अशोक कुमार सिंह, देव प्रकाश रावत, मुख्य आरक्षी शेलेन्द्र कुमार राय, चन्द्रभान मिश्र, पुनीत कुमार सिंह, चालक शैलेन्द्र सिंह शामिल रहे। राशिदा खान की रिपोर्ट