Home » अपराध / आचार » मथुरा:- छेड़छाड़ से रोका तो मनचलो ने लड़की के भाई और पिता को मारी गोली-भाई की मौत पिता की हालत गम्भीर_धनीराम खण्डेलवाल की रिपोर्ट

मथुरा:- छेड़छाड़ से रोका तो मनचलो ने लड़की के भाई और पिता को मारी गोली-भाई की मौत पिता की हालत गम्भीर_धनीराम खण्डेलवाल की रिपोर्ट

मथुरा में फिर आज दिल दहलाने बाली वारदात हुई जिसमे लड़की से छेड़ छाड़ के मामले में भाई ने किया विरोध...

👤 Ajay2017-03-15 05:38:41.0
मथुरा:- छेड़छाड़ से रोका तो मनचलो ने लड़की के भाई और पिता को मारी गोली-भाई की मौत पिता की हालत गम्भीर_धनीराम खण्डेलवाल की रिपोर्ट
Share Post

मथुरा में फिर आज दिल दहलाने बाली वारदात हुई जिसमे लड़की से छेड़ छाड़ के मामले में भाई ने किया विरोध तो सामने रहने बाले लालू चतुर्वेदी ने लड़की के भाई और बाप को गोली मार दी जिसमे लड़की के भाई की मोके पर मौत हो गई और बाप अस्पताल में जिंदगी की लड़ाई लड़ रहा है ।

मामला मथुरा कोतवाली की चोकी बंगाली घाट के प्यारे की बगीची का जहा घनश्याम अपने परिवार के साथ रहता है जिसमे घनश्याम के आलावा दो पुत्र पत्नी और पुत्री रहते है और काफी समय ये यह रह रहे है मगर घनश्याम के घर के सामने लालू चतुर्वेदी नाम का व्यक्ति रहता है जो की बहुत ही शातिर किस्म का व्यक्ति है जिसका क्रिमिनल इतिहास भी रहा है दरअसल घनश्याम के बड़े बेटे गौरव से छोटी एक बहिन भी है जो कि पड़ती है । चतुर्वेदी का घर सामने होने की बजह से अपने दरवाजे पर कई लोगो के साथ मिलकर सामने घनश्याम की बेटी से अश्लील शब्दों का स्तेमाल करते थे ये बहुत समय से ये चल रहा है मगर घनश्याम डर की बजह कुछ नही कह पाता था मगर हद तब हो गई जब आज होली के दिन ये लोग घनश्याम के घर में आ गए और बतमीजी करने लगे तो घनश्याम के लड़के गौरव ने विरोध किया तो चतुर्वेदी ने गौरव को गोली मारदी और घनश्याम दौड़ कर अपने लड़के को देखकर दहाड़ा तो उसे भी गोली मारदी तो आवाज सुनकर और लोग भी निकल आये मगर वो गोली मारकर भाग चुके थे पर पड़ोसियो का कहना है कि गोली मारकर लालू को भागते देखा है जबकि गौरव की माँ का कहना है कि ये बहुत समय से परेशां करते आ रहे है और आज इन्होंने मेरे बेटे की जान लेली जबकि एस पी सिटी का कहना है की हत्या का मामला संज्ञान में आया है मगर तहरीर नही मिली है अगर तहरीर आती है तो उचित कार्यवाही की जायेगी ।मगर सवाल ये उठता है कि क्या बेटी अपने आप को ये सोचकर कोसेगी कि मेरे लड़की होने की बजह से मेरे भाई की जान चली गई और बाप भी अस्पताल में है क्या ऐसे समाज के दरिन्दोा को सजा नही मिलनी चाहिए ।