Home » अपराध / आचार » बहराइच:- अधिवक्ता की सरेराह हत्या, हत्यारे फरार _आलोक आनन्द श्रीवास्तव की रिपोर्ट

बहराइच:- अधिवक्ता की सरेराह हत्या, हत्यारे फरार _आलोक आनन्द श्रीवास्तव की रिपोर्ट

बहराइच। सीमावर्ती जिले बहराइच में दबंगों के हौसले पुलिस की शह पर इस कदर परवान चढ़े हुए हैं की वकील...

👤 Ajay2017-02-20 16:00:15.0
बहराइच:- अधिवक्ता की सरेराह हत्या, हत्यारे फरार _आलोक आनन्द श्रीवास्तव की रिपोर्ट
Share Post

बहराइच। सीमावर्ती जिले बहराइच में दबंगों के हौसले पुलिस की शह पर इस कदर परवान चढ़े हुए हैं की वकील जैसे पेशेवर लोगों की सरे राह हत्या कर दी जा रही है। ताजा मामला बहराइच के बलवापुर इलाके से सामने आया है, जहां देवरायपुर गांव से वापस आ रहे एक बच्छ राज नाम के वकील की सरे राह हत्या कर दी गई। 4 दबंगों बीच रास्ते में वकील पर सरे राह ताबड़तोड़ गोलियों से भून कर मौके से फरार हो गए। घटना की जानकारी होते ही स्थानीय लोगों ने गम्भीर हालत में वकील को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों ने घायल की हालत नाजुक होते देख तत्काल इलाज के लिए लखनऊ ट्रामा सेंटर रिफर किया है। घायल अधिवक्ता के परिजनों ने सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष राम मिलन यादव के बेटे सहित 4 लोगों का नाम उजागर करते हुए गोली कांड की घटना को अंजाम देने का आरोप लगाया है।

वहीं पीड़ित के परिजनों का आरोप है की इस घटना के पीछे गांव की प्रधानी के चुनाव की रंजिश को लेकर दोनों पक्षों के बीच काफी अर्से से रंजिश की आग सुलग रही थी जिसका बदला लेने की नीयत से बच्छ राज नाम के वकील के ऊपर फायरिंग कर जानलेवा हमला किया गया है। वहीं इस कांड के पीछे थाना हरदी की पुलिस की शह का भी आरोप घायल वकील के परिजनों ने लगाया है। वकील के परिजनों ने साफ़ तौर पर थाना हरदी की पुलिस पर लापरवाही का आरोप मढ़ते हुए कहा है की कई बार शिकायत करने के बावजूद घायल पक्ष की सुनवाई थाना हरदी पर नही हो रही थी जबकि दूसरे पक्ष की ऊंची पहुंच और सत्ता पक्ष के दबाव के चलते पुलिस मामले पर कार्रवाही के बजाय अपने कान में तेल डाल कर बैठी थी।

इस मामले की जानकारी होते ही मौके की जांच करने पहुंचे सीओ महसी अखण्ड प्रताप सिंह ने भरोसा जताया है की किसी भी दोषी को बक्शा नहीं जायेगा। घटना के बाद से इलाके में तनाव की स्थित बरकार है अब देखना है की सत्ता पक्ष के दबाव में ख़ामोशी का चोला अख्तियार करने वाली पुलिस के खिलाफ मौजूदा पुलिस कप्तान की तरफ से क्या कार्रवाही होती है।