Home » अपराध / आचार » मऊ_ रेप करने के प्रयास का आरोपी गिरफ्तार_अरुण सिंह भीमा की रिपोर्ट

मऊ_ रेप करने के प्रयास का आरोपी गिरफ्तार_अरुण सिंह भीमा की रिपोर्ट

मऊ_(अरुण सिंह भीमा) बीते 4.फ़रवरी को थाना सरायलखंसी अन्तर्गत ग्राम ताजोपुर में शाम के समय एक नाबालिक...

👤 Ajay2017-02-08 10:32:21.0
मऊ_ रेप करने के प्रयास का आरोपी गिरफ्तार_अरुण सिंह भीमा की रिपोर्ट
Share Post

मऊ_(अरुण सिंह भीमा) बीते 4.फ़रवरी को थाना सरायलखंसी अन्तर्गत ग्राम ताजोपुर में शाम के समय एक नाबालिक लड़की, जो दुकान से सामान खरीद कर घर लौट रही थी, को सूरज सिंह उर्फ बिट्टू सिंह पुत्र दिनेश सिंह, निवासी कबीरपुर, थाना बहरियाबाद, जिला गाजीपुर, जो किराये का मकान लेकर ग्राम ताजोपुर में रहता है, द्वारा पीड़िता को रास्ते में ही पकड़ कर पटक कर मुंह दबा दिया तथा उसके साथ बलात्कार करना चाहा, जिसका विरोध पीड़िता द्वारा किया गया। प्रतिरोध से क्षुब्ध होकर अभियुक्त सूरज, उपरोक्त ने पीड़िता को बुरी तरह से मारा-पीटा। पीड़िता के दुपट्टे से ही उसका गला जोर से कस दिया एवं बगल के गड्ढे में, जिसमें पानी व कीचड़ था, में पीड़िता का सर गर्दन तक धंसाया, उसके बाद घसीटते हुए गेहूं के खेत में ले गया, और मरी समझ कर पीड़िता को वहीं छोड़ कर भाग गया।

घटना की सूचना पर तत्काल पुलिस टीम पहुंच कर जांच पड़ताल में जुट गयी। तत्काल ही पुलिस अधीक्षक, मऊ भी मौके पर पहुंच गये। इस लोमहर्षक घटना से क्षेत्र में भय का माहौल व्याप्त हो गया। घटना की सूचना पर थाना सरायलखंसी पर मु0अ0सं0 77/17 धारा 307.376.511.354.308.323. भादवि व 3/4 पाॅक्सो एक्ट व 7 सीएलए एक्ट पंजीकृत होकर विवेचना प्रारम्भ की गयी। घटना की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक, मऊ द्वारा तत्काल क्षेत्राधिकारी नगर पंकज कुमार सिंह के निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक, सरायलखंसी, व क्राईम ब्रान्च को आरोपी की गिरफ्तारी हेतु लगाया गया।

प्रभारी निरीक्षक सरायलखंसी, के नेतृत्व में पुलिस बल द्वारा मुखबिर की सूचना पर अभियुक्त सूरज सिंह उर्फ बिट्टू सिंह पुत्र दिनेश सिंह, निवासी कबीरपुर, थाना बहरियाबाद, जिला गाजीपुर को सुबह करीब साढ़े पांच बजे डुमराव मोड़ से गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में अभियुक्त ने बताया कि उस दिन मैं अपने किराये के मकान के पास बैठा था। हल्का अंधेरा हो गया था, तभी गांव की एक लड़की, जिस पर मेरे निगाहें पहले से भी थीं, दुकान से वापस घर जाते दिखायी दी। तत्काल मैं उसके पीछे हो लिया और रास्ते में सुनसान स्थान पर मैंने उसे पकड़ लिया तथा जबरदस्ती करनी चाही, पर उसने मुझे दांत से काट लिया। गुस्सा आने पर मैंने उसे कीचड़ में धक्का देकर उसका सर कीचड़ में ही गाड़ दिया। फिर घसीटते हुए गेहूं के खेत तक ले गया और उसके गर्दन पर अपना पैर रखकर दबाया। मरा जानकर मैं उसे वहीं छोड़ कर भाग गया। इससे पहले भी उसने करीब 4-5 साल पहले अपने गांव में 06 वर्षीय लड़की के साथ बलात्कार के प्रयास में असफल होने पर उसकी हत्या की थी तथा लाश को भूसे में छिपा दिया था, जिसके सम्बन्ध में वह अब तक जेल में था, हाल ही में छूट कर आया था। इस दुर्दान्त घटना के अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक, मऊ द्वारा रू0 2500/- पुरस्कार की घोषणा पूर्व में ही की गयी थी।